1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. अब इस राज्य में मंत्री से लेकर IAS अफसर तक को आना होगा साइकिल से, सरकार ने शुरु की ये अनूठी पहल

अब इस राज्य में मंत्री से लेकर IAS अफसर तक को आना होगा साइकिल से, सरकार ने शुरु की ये अनूठी पहल

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: गीतांजली लोहनी

रांची: देश के हर 10 में से 9 लोग प्रदूषित हवा में सांस लेते हैं। प्रदुषण के मामलें में भारत देश का ग्राफ दिन पर दिन बढ़ता ही जा  रहा है। ऐसे में सरकार ने इसे रोकने के लिए कई नियम भी निकालें सब के सब प्रदुषित हवा में ही उड़ गये। तो वहीं अब झारखंड सरकार ने प्रदुषण को रोकने के लिए एक ऐसी पहल शुरु की है जिसकी चर्चा पूरे देश में हो रही है।

दरअसल इस अभियान के तहत झारखंड सरकार ने राजधानी रांची में हर शनिवार को सभी को अपनी साइकिल का प्रयोग करने को कहा। इस अभियान के तहत चाहे कोई मंत्री हो या फिर कोई सरकारी कर्मचारी अब सभी को साइकिल चलाकर दफ्तर आना होगा।

झारखंड सरकार द्वारा चलाए गये ‘नो कार शनिवार’ अभियान की शुरुआत हुई इसी शनिवार से ही हुई है। इस अभियान को रांची नगर निगम की तरफ से शुरू किया गया है। जिसमें शहर के कई बड़े अधिकारी और मंत्रियों ने हिस्सा लिया। जहां झारखंड सरकार के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख अपने आवास से 15 किलोमीटर साइकिल चलाकर विधानसभा जाते दिखे। इस अभियान के तहत सभी विधायकों, सचिवों और अधिकारियों को पत्र भेजकर अभियान चलाने का आग्रह किया गया है।

इस अभियान के लिए रांची नगर आयुक्त मुकेश कुमार भी शहर के मोराबादी मैदान के लिए साइकिल से ही पहुंचे हुए थे। उन्होंने बताया कि अब हर शनिवार को शहर के लाखों लोग इसमें शामिल होंगे। उधर कृषि मंत्री ने कहा कि,आने वाले दिनों में राज्य के युवा मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन भी इस अभियान से जुड़ेंगे। जिसके तहत जनता को संदेश दिया जाएगा कि सप्ताह में एक दिन साइकिल से चलिए।

बता दें कि नगर आयुक्त मुकेश कुमार ने बताया कि अब आने वाला दिन साइकिल का है। और आज से 5 साल बाद हम सभी को साइकिल पर ही आना है। जिसकी आज शुरुआत रांची से हो रही है, यह गर्व की बात है रांचीवासियों को मिलकर इसे सफल बनाना है।

बताते चलें कि कुछ साल पहले राजधानी दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी प्रदुषण के बढ़ते ग्राफ को देखते हुए ऑड इवेन अभियाना चलाया लेकिन वो ज्यादा कारगर साबित नहीं हो सका था । लेकिन अब झारखंड सरकार द्वारा चलायी गयी ‘नो कार शनिवार’ की मुहिम प्रदुषण को कंट्रोल करने में कितनी कारगर साबित होगी ये तो आने वाले समय में पता चल ही जाएगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...