1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. देश-दुनिया के इतिहास में आज के दिन की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ, पढ़ें

देश-दुनिया के इतिहास में आज के दिन की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ, पढ़ें

इतिहास  से अच्छा शिक्षक कोई दूसरा हो ही नहीं सकता। इतिहास सिर्फ अपने में घटनाओं को नहीं समेटे होता है बल्कि इन घटनाओं से भी आप बहुत कुछ सीख सकते हैं।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

इतिहास  से अच्छा शिक्षक कोई दूसरा हो ही नहीं सकता। इतिहास सिर्फ अपने में घटनाओं को नहीं समेटे होता है बल्कि इन घटनाओं से भी आप बहुत कुछ सीख सकते हैं। हर गुजरता दिन इतिहास में कुछ घटनाओं को जोड़कर जाता है। बाल गंगाधर तिलक ने 15 अप्रैल 1895 में रायगढ़ किले में शिवाजी उत्सव का उद्घाटन किया था।

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में ऐसे कई महानायक हैं जिन्होंने अपने महान कार्यों से देश को स्वतंत्र कराने में अहम भूमिका निभाई है। ऐसे ही एक महान नेता हैं लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक। बाल गंगाधर को आधुनिक भारत का निर्माता कहा जाता है स्वतंत्रता के साथ देश को आगे बढ़ाने के लिए शिक्षा पर जोर दिया था।

लाल-बाल-पाल के बाल गंगाधर तिलक को देश लखनऊ समझौता और केसरी अखबार के लिए भी याद करता है। भारत के वाइसरॉय लॉर्ड कर्ज़न ने जब सन 1905 ई. में बंगाल का विभाजन किया, तो तिलक ने बंगालियों द्वारा इस विभाजन को रद्द करने की मांग का ज़ोरदार समर्थन किया और ब्रिटिश वस्तुओं के बहिष्कार की वक़ालत की, जो जल्दी ही एक देशव्यापी आंदोलन बन गया।

स्वराज हमारा जन्म सिद्ध अधिकार है और मैं इसे लेकर रहूंगा के नारे के साथ बाल गंगाधर तिलक ने इंडियन होमरूल लीग की स्थापना की. सन 1916 में मुहम्मद अली जिन्ना के साथ लखनऊ समझौता किया, जिसमें आज़ादी के लिए संघर्ष में हिन्दू- मुस्लिम एकता का प्रावधान था। क्या था लखनऊ समझौता काग्रेस और मुस्लिम लीग के बीच काग्रेस लीग समझौता हुआ था, जिसे हम लखनऊ समझौता या लखनऊ पैक्ट के नाम से जानते हैं। इस समझौते में एनी बेसेंट, लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक और मुहम्मद अली जिन्ना ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

राजीव गांधी हत्याकांड से जुड़े लिट्टे उग्रवादी वी. मुरलीधरन की 15 अप्रैल 2004 में कोलम्बो में हत्या की गयी थी। हिमाचल प्रदेश राज्य की स्थापना 15 अप्रैल 1948 में आज ही के दिन हुई थी। 15 अप्रॅल को जन्मे व्यक्ति 15 अप्रॅल 1452 में इटलीवासी, महान चित्रकार लिओनार्दो दा विंची का जन्म हुआ था।

पेरिस के म्यूजियम में सुशोभित मोनालिसा की डेढ़ इंची मुसकान वाली खूबसूरत पेंटिग को देखकर सभी उनकी प्रतिभा की प्रशंसा किये बिना नहीं रहते। यह पेंटिंग लिओनार्दो दा विंची ने ही बनाया था । सिख धर्म के संस्थापक गुरू नानक का 15 अप्रॅल 1469 में जन्म हुआ था । जिन्होंने मानवता की सर्व कठिनाइयों, अरुचियों, प्रवृत्तियों को प्रामाणिक शिक्षा एवं उपदेश देकर उनके निजी, सामाजिक, नैतिक तथा आध्यात्मिक जीवन को परिपक्व बनाया। 15 अप्रॅल को हुए निधन। चित्रकार नंदलाल बोस का 15 अप्रॅल 1966 में निधन हुआ था। नंदलाल बोस एक प्रसिद्ध भारतीय चित्रकार थे। इन्हें आधुनिक भारतीय कला के आरंभिक कलाकारों में से एक माना जाता है।

15 अप्रैल की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ

1994 – भारत सहित 109 देशों द्वारा ‘गैट’ समझौते की स्वीकृति।

 

1998 – थम्पी गुरु के नाम से प्रसिद्ध फ़्रेडरिक लेंज का निधन।

 

1999 – पाकिस्तान की पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो तथा उनके पति आसिफ़ अली जरदारी को सरकारी ठेकों में दलाली खाने के आरोप में पांच वर्ष की क़ैद की सज़ा, पाकिस्तान ने परमाणु क्षमता वाले अपने दूसरे प्रक्षेपास्त्र शाहीन-1 का परीक्षण किया।

 

2000 – आतंकवाद से निपटने के लिए सहयोग के आहवान के साथ जी-77 शिखर सम्मेलन हवाना में सम्पन्न।

 

2003 – ब्रिटेन में आयरिश रिपब्लिकन आर्मी ने हथियार डाल देने का निर्णय लिया।

 

2004 – राजीव गांधी हत्याकांड से जुड़े लिट्टे उग्रवादी वी. मुरलीधरन की कोलम्बो में हत्या की गयी।

 

2006 – इंटरपोल ने जकार्ता सम्मेलन में एंटी करप्शन एकेडमी के गठन का प्रस्ताव सुझाया।

 

2008 – राज्यसभा के सभापति मोहम्मद हामिद अंसारी ने बजट सत्र के दूसरे चरण के पहले दिन नव निर्वाचित 55 सदस्यों में से 50 को शपथ दिलायी। भारतीय मूल के कनाडाई मंत्री दीपक ओबेरॉय को अफ़ग़ानिस्तान पर गठित कनाडाई संसद की विशेष समिति का सदस्य चुना गया।

 

2010 – भारत में निर्मित पहले क्रायोजेनिक रॉकेट जीएसएलवी-डी3 का प्रक्षेपण नाकाम हो गया।

 

15 अप्रैल को जन्मे व्यक्ति

1452 – लिओनार्दो दा विंची, इटलीवासी, महान चित्रकार।

 

1469 – गुरु नानक – उनमें पैगम्बर, दार्शनिक, राजयोगी, गृहस्थ, त्यागी, धर्मसुधारक, समाज-सुधारक, कवि, संगीतज्ञ, देशभक्त, विश्वबन्धु सभी के गुण उत्कृष्ट मात्रा में विद्यमान थे।

 

1563 – गुरु अर्जन देव – सिक्खों के पाँचवें गुरु।

 

1865 – अयोध्यासिंह उपाध्याय – खड़ी बोली के प्रथम महाकाव्यकार।

 

1901 – अजय कुमार मुखर्जी – पश्चिम बंगाल के भूतपूर्व मुख्यमंत्री थे।

 

1940 – सुल्तान ख़ान – भारत के प्रसिद्ध सारंगी वादक और शास्त्रीय गायक।

 

1946 – फ़्राँसिस्को सार्डिन्हा – भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के राजनीतिज्ञ, जो गोवा के भूतपूर्व मुख्यमंत्री रहे हैं।

 

1948 – थिरुमलाचारी रामासामी – पूर्व भारतीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी सचिव हैं।

 

1960 – नरोत्तम मिश्रा – मध्य प्रदेश की राजनीति में ‘भारतीय जनता पार्टी’ के प्रसिद्ध नेता।

 

1972 – मंदिरा बेदी – बॉलीवुड अभिनेत्री, क्रिकेट ग्लैमर और फैशन आइकन।

 

1992 – वंदना कटारिया – भारतीय फील्ड हॉकी खिलाड़ी हैं जो राष्ट्रीय टीम में फॉरवर्ड के रूप में खेलती हैं।

 

15 अप्रैल को हुए निधन

1985 – शंभुनाथ डे – हैजा के जीवाणु पर शोध कार्य करने वाले भारतीय वैज्ञानिक थे।

 

1981 – दरोगा प्रसाद राय – भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के राजनेता तथा स्वतंत्रता सेनानी थे।

 

15 अप्रैल के महत्त्वपूर्ण अवसर एवं उत्सव

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...