1. हिन्दी समाचार
  2. ताजा खबर
  3. मोदी सरकार का बड़ा फैसला, किसानों को वापस लौटाना होगा सारे पैसें!

मोदी सरकार का बड़ा फैसला, किसानों को वापस लौटाना होगा सारे पैसें!

सरकार के द्वारा किसानों की आर्थिक मदद के लिये प्रधानमंत्री किसाने सम्मान निधी योजना को लागू किया गया था। इस योजना के तहत सालाना 2,000 रुपये की 3 किस्त किसानों के खाते मे आती है। और इसी के तहत अब तक 9 किस्त किसानों के बैंक अकाउंट में पहुंच चुकी है।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: अनुष्का सिंह

नई दिल्ली: सरकार के द्वारा किसानों की आर्थिक मदद के लिये प्रधानमंत्री किसाने सम्मान निधी योजना को लागू किया गया था। जिसके तहत आर्थिक दशा में सुधार के लिये किसान इसका लाभ उठाते हैं। इस योजना के तहत सालाना 2,000 रुपये की 3 किस्त किसानों के खाते मे आती है। और इसी के तहत अब तक 9 किस्त किसानों के बैंक अकाउंट में पहुंच चुकी है। इसी सब के चलते किसानों को 10वीं किस्त का इंतजार है। लेकिन चौकाने वाली बात तो यह है कि अब किसानों को यह पैसे सरकार को वापिस करने पडेंगे, जी हाँ।

दरअसल इस योजना को पैसों कि तंगी से जूझ रहे किसानों की मद्द के लिये लागू किया गया था। लेकिन हमेश कि तरह सरकार की आँखो मे धूल झौंकते हुऐ कुछ लोगो ने इस योजना का गलत फायदा उठाया। जो किसान नही थे उन्होने भी इस योजना में रजिस्ट्रेशन करा कर खूब पैसे लूटे। लेकिन जैसे ही सरकार को धोखाधड़ी की भनक लगी सरकार फुल टू एक्शन के मूड़ मे आ गई है। सरकार ने इस गंभीर मुद्दे के समाधान की घोषणा कर दी है। फैसले के तहत जिन्होंने गलत तरीके से इस स्कीम का फायदा उठाया है, उन्हें अब पैसा वापस करना होगा। किसानों को रिफंड देने के लिए पीएम किसान स्कीम के तहत इन किसानों की लिस्ट जारी कर दी गई है। इस लिस्ट में जिन किसानों के नाम हैं उन्हें राज्य के साथ-साथ केंद्र सरकार को भी पैसा वापस करना होगा। तो जल्दी जाईये और चैक कीजीये की कहीं आपका नाम तो इस लिस्ट मे नही।

पेमेंट रिटर्न लिस्ट में ऐसे चेक करें अपना नाम

– इसके लिए आप पीएम किसान सम्मान निधि (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) की आधिकारिक वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाएं.

– अब होम पेज पर अपात्र श्रेणी, किसान का नाम, पंजीकरण संख्या, लिंग, राज्य, ब्लॉक, जिला, किस्त राशि, रिफंड मोड और बैंक खाता विवरण डालें.

– विवरण दर्ज करने के बाद सूची स्क्रीन पर दिखाई देगी.

– इस सूची की जांच करें और देखें कि आपका नाम उपलब्ध है या नहीं.

– अगर यहां आपको आपका नाम देख दिखता है तो वह राशि वापस करें जो आपको योजना के तहत दी गई थी.

– प्रत्येक राज्य ने अपने किसानों के लिए अपनी अलग वेबसाइट बनाई है, जहां वे अपना नाम देख सकते हैं.

– जैसे- बिहार राज्य की वेबसाइट dbtagriculture.bihar.gov.in है.

– इससे किसानों को आसानी से अपना नाम खोजने में मदद मिलेगी और समय की भी बचत होगी.

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...