1. हिन्दी समाचार
  2. Madhya Pradesh
  3. कपल को शादी करने की मची जल्दी, दूल्हे के कोरोना पॉजीटिव होने पर पीपीई किट पहन दोनों ने रचाई शादी

कपल को शादी करने की मची जल्दी, दूल्हे के कोरोना पॉजीटिव होने पर पीपीई किट पहन दोनों ने रचाई शादी

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट- पल्लवी त्रिपाठी 

मध्य प्रदेश : कोरोना महामारी से संक्रमितों होने वालों की संख्या में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है। ऐसे में प्रशासन ने शादी में केवल 50 लोगों को अनुमति दी है। लेकिन जरा सोचिए अगर दूल्हा ही कोरोना संक्रमित हो, तो क्या होगा। ऐसा ही एक मामला मध्य प्रदेश से सामने आया है। जहाँ दूल्हे के कोरोना पॉजीटिव होने के बावजूद भी शादी नहीं रुकी। बल्कि दोनों ने पीपीई किट पहनकर सात फेरे लिए। यह शादी सोशल मीडिया पर वायरल हो गयी। 

मध्य प्रदेश के रतलाम में पीपीई किट पहनकर शादी का मामला सामने आया है। दरअसल, दूल्हे के कोरोना पॉजिटिव होने के चलते उसने और दुल्हन ने भी पीपीई किट पहन ली और शादी रचाई। 

वीडियो में आप देख सकते हैं दूल्हा और दुल्हन पीपीई किट पहनकर अग्नि के 7 फेरे ले रहे हैं। जबकि पंडित दूर खड़े मंत्रोच्चार करते दिखे। वहीं, इस अनोखी शादी में दोनों गठबंधन के बजाए एक-दूसरे का हाथ पकड़कर सात फेरे ले रहे हैं। वीडियो क्लिप में तीन अन्य लोग भी दिख रहे हैं। उन्होंने भी पूरी तरह प्रोटेक्टिव सूट पहन रखा हैं। न्यूज एजेंसी एएनआई ने इस अनोखी शादी का वीडियो ट्वीटर पर शेयर किया है। 

इस शादी की तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा हैं। सोशल मीडिया यूजर्स कपल की खूब आलोचना कर रहे हैं। एक यूजर ने लिखा- इतनी भी क्या जल्दी थी। दूसरे यूजर ने लिखा कि क्या महामारी के इस दौर में शादी को कुछ वक्त के लिए टाला नहीं जा सकता था। बता दें कि इससे पहले रविवार को केरल में भी पीपीई किट पहनकर शादी करने का मामला सामने आया था।

रतलाम के तहसीलदार नवीन गर्ग ने इस शादी को लेकर बताया कि ‘दूल्हा 19 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव हो गया था। हम इस शादी को रुकवाने पहुंचे थे, लेकिन परिवार के लोगों के आग्रह और सीनियर अफसरों की सलाह के बाद इसे मंजूरी दी गई। दूल्हा और दुल्हन दोनों ही पीपीई किट पहने थे ताकि कोरोना का संक्रमण न फैल सके।’ 

वहीं, इस बीच मध्य प्रदेश के भिंड जिले के एसपी मनोज कुमार सिंह ने ऐलान किया है कि 10 या उससे कम लोगों के साथ शादी करने वाले दूल्हा और दुल्हन को वह अपने घर पर भोज देंगे। मनोज कुमार सिंह ने कहा, ’10 या उससे कम मेहमानों की मौजूदगी में शादी करने वाले दूल्हा और दुल्हन को मैं अपने घर पर डिनर के लिए आमंत्रित करूंगा। ऐसे कपल को सम्मानित किया जाएगा और उन्हें मोमेंटो प्रदान किए जाएंगे। इसके अलावा उन्हें लाने और ले जाने के लिए सरकार वाहन की भी व्यवस्था की जाएगी।’ 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...