1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. पीएम मोदी की दाढ़ी पर कांग्रेस नेता शशि थरूर का बड़ा तंज, की भारत की GDP से तुलना, जानिए कैसे

पीएम मोदी की दाढ़ी पर कांग्रेस नेता शशि थरूर का बड़ा तंज, की भारत की GDP से तुलना, जानिए कैसे

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली: देश में जारी कोरोना महामारी ने पूरी तरह से आर्थिक गति को धीमा कर दिया था, जो अब धीरे-धीरे रफ्तार पकड़ने लगा है। हालांकि देश का जीडीपी साल 2019-20 की दूसरी तिमाही में जीडीपी गिरकर 4.5 फीसदी रह गई है, जो 2017 से 18 की चौथी तिमाही में 8.1 फीसदी पर थी। जिसे लेकर अब कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भारती की GDP की तुलना पीएम मोदी की दाढ़ी से की है।

उन्होंने अपने ट्विटर एकाउंट पर साल 2017 से 2019-20 तक के आंकड़े दिखाते हुए पीएम मोदी पर निशाना साधा है। और पीएम मोदी की पांच तस्वीरें भी शेयर की हैं। इन तस्वीरों में पीएम मोदी की दाढ़ी का साइज अलग-अलग है।

 

शशि थरूर ने इस ट्वीट के साथ लिखा है, ‘इसे कहते हैं ग्राफिक्स इलेस्ट्रेशन के मायने।’ ग्राफिक्स में दिखाया गया है कि साल 2017-18 की चौथी तिमाही में भारत की जीडीपी 8.1 फीसदी थी। फिर साल 2019-20 की दूसरी तिमाही में जीडीपी गिरकर 4.5 फीसदी रह गई है।

क्या है देश की GDP की स्थिति

ताजा आंकड़ों के मुताबिक, चालू वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर 0.4 फीसदी रहने का अनुमान है जो लगातार विकास दर में वृद्धि को दर्शाता है। हालांकि पूरे वित्त वर्ष के (जीडीपी) की वृद्धि दर शून्य से नीचे रहने का अनुमान है। दूसरे अग्रिम अनुमान के आंकड़ों के अनुसार, वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान जीडीपी वृद्धि दर माइनस आठ फीसदी (-8 फीसदी) रह सकती है।

स्थिर कीमतों (2011-12) पर वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान देश की वास्तविक जीडीपी 134.09 लाख करोड़ रुपये रहने का अनुमान है, जबकि 29 जनवरी 2021 को जारी 2019-20 के प्रथम संशोधित अनुमान में देश की जीडीपी 145.69 लाख करोड़ रहने का अनुमान लगाया गया था।

इस तरह 2020-21 में जीडीपी वृद्धि दर माइनस आठ फीसदी (-8 फीसदी) रहने का अनुमान है, जबकि 2019-20 में जीडीपी वृद्धि दर चार फीसदी दर्ज की गई थी। वहीं, स्थिर कीमतों (2011-12) पर वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही में देश की जीडीपी 36.22 लाख करोड़ रुपये रहने का अनुमान है, जबकि 2019-20 की समान अवधि के दौरान यह आंकड़ा 36.08 लाख करोड़ रुपये था। इस प्रकार, चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर 0.4 फीसदी रहने का अनुमान है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...