1. हिन्दी समाचार
  2. ताजा खबर
  3. कृषि कानून विरोध : दिल्‍ली में ट्रैक्‍टर जलाने पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का ट्वीट, पढ़े

कृषि कानून विरोध : दिल्‍ली में ट्रैक्‍टर जलाने पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का ट्वीट, पढ़े

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

कृषि विधेयक के खिलाफ किसान सड़कों पर उतरे हैं और विरोधी दल ने भी किसान बिल को लेकर मोर्चा खोला हुआ है!

तो वहीं इसी बीच रविवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने विधेयकों पर मुहर लगा दी है, जिसके बाद किसानों का प्रदर्शन अब उग्र होता दिख रहा है!

राजधानी में आज सुबह करीब 15-20 लोग दिल्ली के इंडिया गेट पहुंचे और एक ट्रैक्टर में आग लगा दी, फिलहाल मौके पर तुरंत पहुंचकर ट्रैफिक पुलिस और फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पा लिया।

किसान कानून का विरोध कर रहे कुछ कांग्रेस के कार्यकर्ता सोमवार सुबह एक ट्रैक्टर लेकर राजपथ पहुंचे! यहां इंडिया गेट के पास उन्होंने कृषि विधेयक का विरोध करते हुए ट्रैक्टर को आग के हवाले कर दिया!

तुरंत ही मौके पर पहुंचकर ट्रैफिक पुलिस और फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पाया! दिल्ली पुलिस के मुताबिक, करीब सुबह 7.15 बजे 15-20 लोग इंडिया गेट के पास आए और ट्रैक्टर में आग लगाई. पुलिस ने तुरंत मौके पर पहुंचकर आग बुझाई और ट्रैक्टर को वहां से हटाया!

आगजनी को लेकर इस घटना में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है. जबकि जिस इनोवा गाड़ी का इस्तेमाल हुआ, उसे भी जब्त किया गया है!

दिल्‍ली में ट्रैक्‍टर जलाने पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने ट्वीट किया है। उन्‍होंने लिखा कांग्रेस कार्यकर्ता ट्रक में ट्रैक्‍टर लाए और इंडिया गेट के पास जलाया। यही कांग्रेस का नाटक।

इसलिए कांग्रेस को लोगों ने सत्ता से बेदखल किया।’ दिल्ली भाजपा मीडिया सेल के प्रमुख नीलकांत बख्शी ने कहा कि वह ट्रैक्‍टर जलाने वाले युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराएंगे।

उन्होंने आरोप लगाया कि युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ट्रैक्टर लाकर हिंसा फैलाने के लिए उसमें आग लगा दी।

बख्शी ने कहा, वे देश में दंगे कराने की कोशिश कर रहे हैं और मैं इस साजिश को रोकने के लिए एफआईआर दर्ज कराऊंगा।

वहीं, केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि आज कांग्रेस ने दिल्ली में अपना असली रंग दिखा दिया। किसानों के नाम पर कुछ असामाजिक तत्व अराजकता फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। ट्रैक्टर जलाने की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। वे किसानों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...