1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के बीच मौकापरस्ती का गठबंधन- गडकरी

कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के बीच मौकापरस्ती का गठबंधन- गडकरी

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

महाराष्ट्र में सरकार बनाने की कवायद पिछले एक महीने से चल रही है। अब ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के बीच गठबंधन की सरकार बन जाएगी। लेकिन महाराष्ट्र में कांग्रेस, एनसीपी औऱ शिवसेना के बीच होने वाली संभावित गठबंधन को महाराष्ट्र की राजनीति के माहिर खिलाड़ी नितिन गडकरी ने इस गठबंधन को मौका परस्त बताया है।

उन्होंने कहा है कि शिवसेना औऱ बीजेपी के बीच गठबंधन नहीं होना देश, विचारधारा, हिदुत्व और महाराष्ट्र के लिए नुकसानदायक है। गडकरी ने कांग्रेस औऱ एनसीपी के साथ शिवसेना के बीचे होने जा रहे गठबंधन को लेकर यह भी कहा कि दोनों ही पार्टियों के विचारधारा अलग- अलग है। कांग्रेस जिस विचारधारा पर चलती है उसका विरोध शिवसेना करती है। वहीं एनसीपी भी शिवसेना के विचारों से तालमेल नहीं रखती है।

नितिन गडकरी ने कहा कि यह गठबंधन विचारों और सिद्धांतों के आधार पर नहीं हुआ है और यह कभी भी नहीं टिकेगा। इतना ही नहीं महाराष्ट्र की राजनीति में यह गठबंधन कभी भी स्थिर सरकार नहीं दे पाएगी। इससे महाराष्ट्र का काफी नुकसान होगा और मुझे लगता है कि महाराष्ट्र के लिए अस्थिर सरकार अच्छी बात नहीं है। 

अब सवाल ये उठता है कि शिवसेना के साथ गठबंधन होने के बावजूद बीजेपी सरकार क्यों नहीं बना पाई। बीजेपी और शिवसेना के बीच गठबंधन सालों पुराना है औऱ यह गठबंधन हिंदुत्व के विचारों पर आधारित है। इतना ही नहीं यह देश में सबसे लंबा अलायंस साबित है। दोनों ही पार्टियों के बीच विचारों मतभिन्नता नहीं है। इसलिए ऐसे गठबंधन का न रहना, देश के लिए, उनकी विचारधारा के लिए, हिंदुत्व औऱ महाराष्ट्र के लिए नुकसानदायक है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...