Home देश एक बार फिर देश बढ़ रहा लॉकडाउन की ओर, पिछले 24 घंटे में कोरोना ने तोड़े तकरीबन 5 महीने का रिकॉर्ड

एक बार फिर देश बढ़ रहा लॉकडाउन की ओर, पिछले 24 घंटे में कोरोना ने तोड़े तकरीबन 5 महीने का रिकॉर्ड

4 second read
0
160

नई दिल्ली : देश में कोरोना महामारी को लेकर लगातार कोरोना वैक्सीनेशन के टीके दिये जा रहे है, लेकिन कोरोना के मामले हैं कि रूकने का नाम नहीं ले रहा। आपको बता दें कि पिछले 24 घंटे में कोरोना के नये मामलों ने तकरीबन 5 महीनों यानी की 153 दिनों के रिकॉर्ड तोड़ा है। बता दें कि भारत में पिछले 24 घंटे में #COVID19 के 53,476 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1 करोड़, 17 लाख, 87 हजार, 534 हुई।

वहीं 251 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1 लाख, 60 हाजर, 692 हो गई है। आपको बता दें कि इस महामारी से ठीक हुए लोगों की कुल संख्या 1 करोड़, 12 लाख, 31 हजार, 650 है। जिससे देश में कुल सक्रिय मामलों की संख्या 3 लाख 95 हजार 195 हो गया। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के मुताबिक, भारत में कल तक कोरोना वायरस के लिए कुल 23,75,03,882 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं, जिनमें से 10,65,021 सैंपल कल टेस्ट किए गए।

आपको बता दें कि देश में कोरोना वैक्सीनेशन के तहत कुल 5 करोड़, 31 लाख, 45 हाजर, 709 लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई गई है। स्वास्थ मंत्रालय ने बताया कि देश के दस जिलों में कोरोना के सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं। ये 10 जिले हैं- पुणे, नागपुर, मुंबई, थाने, नासिक, औरंगाबाद, बेंगलुरु, अर्बन नांदेड़, जलगांव और अकोला। महाराष्ट्र में 9 जिले हैं और एक कर्नाटक का जिला है जहां सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं। दो राज्यों महाराष्ट्र और पंजाब में लगातार केस बढ़ रहे हैं। इन दोनों के अलावा गुजरात, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, छत्तीसगढ़ और चंडीगढ़ में केस तेजी से बढ़ रहे हैं।

बता दें कि भारत आगामी कुछ महीनों तक कोविड-19 टीकों के निर्यात को संभवत: विस्तार नहीं देगा, क्योंकि कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ने के मद्देनजर उसका ध्यान घरेलू मांग को पूरा करने पर केंद्रित हो गया है। भारत विभिन्न देशों से की जा चुकी मौजूदा प्रतिबद्धताएं पूरी करेगा, लेकिन घरेलू मांग पूरा करने के लिए आगामी कुछ महीनों के लिए निर्यात नहीं बढ़ाएगा।

अधिकारी ने बताया कि, दो-तीन महीनों बाद हालात की समीक्षा की जाएगी. भारत ने विदेशों में टीके की आपूर्ति करना 20 जनवरी से शुरू किया था. भारत अब तक करीब 80 देशों में टीके की छह करोड़ चार लाख खुराक भिजवा चुका है। गौरतलब है कि देश में जिस तरह से कोरोना के आंकड़े दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहे है, लोगों का मानना है कि देश एक बार फिर लॉकडाउन की ओर बढ़ रहा है। जो जल्द ही लागू हो सकता है।

Load More In देश
Comments are closed.