Home Breaking News पिछले 24 घंटे में कोरोना के 38,772 नए मामले आये सामने, 443 मौतें, अब तक 94.31 लाख केस

पिछले 24 घंटे में कोरोना के 38,772 नए मामले आये सामने, 443 मौतें, अब तक 94.31 लाख केस

2 min read
0
1

देश और दुनिया में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। हालांकि भारत में दैनिक मामलों में लगातार कमी दर्ज की जा रही है। रविवार की तुलना में सोमवार को कोरोना वायरस के दैनिक मामलों में भारी गिरावट आई है।

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के अब तक 94 लाख से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। हालांकि, इनमें से 88 लाख से ज्यादा मरीज़ कोरोना को मात देने में कामयाब रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार सुबह जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में कोरोना के 38,772 नए मामले दर्ज किए जाने से संक्रमण के मामलों की कुल संख्या 94.31 लाख पहुंच गई है। वहीं, बीते 24 घंटे में 443 मरीज़ों की कोरोना के चलते मौत हुई है। देश में अब तक 1,37,139 मरीजों की वायरस की वजह से मौत हो चुकी है।

भारत में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 94 लाख के पार पहुंच गई है। आज लगातार 23वें दिन कोरोना के 50 हजार से कम नए मामले दर्ज किए गए और 15 दिनों में चौथी बार 40 हजार से कम केस आए।

देश में पिछले 24 घंटे में 38,772 नए संक्रमित मरीज आए हैं। वहीं 443 लोग कोरोना से जिंदगी की जंग हार गए। अच्छी बात ये है कि नए संक्रमितों से ज्यादा बीते दिन 45,333 मरीज कोरोना से ठीक भी हुए हैं। हालांकि कोरोना मामले बढ़ने की ये संख्या दुनिया में अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा है।

वहीं मौत की संख्या दुनिया में पांचवें नंबर पर है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, 22 राज्यों और केंद्र शासित क्षेत्रों में संक्रमण से मौत की दर, राष्ट्रीय औसत दर 1.46 प्रतिशत से कम है।

आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में 45,333 लोग ठीक हुए हैं। इसी के साथ अब तक देश में कुल ठीक हुए मरीज़ों की संख्या 88.47 लाख हो गई है। रोजाना दर्ज किए जाने वाले नए मामलों की संख्या में कमी आने से देश में एक्टिव केसों की संख्या में भी कमी देखी जा रही है। देश में कोरोना के एक्टिव केस 4.46 लाख हैं।

पिछले 6 दिनों के डेटा पर नजर डालें तो देश में एक बार फिर से कोरोना मरीजों के मिलने की रफ्तार तेज हो गई है। अब हर दिन 40 से 45 हजार नए मरीज मिल रहे हैं। पहले जहां, हर दिन 50 हजार लोग ठीक हो रहे थे वहां अब 30 से 35 हजार रिकवरी रह गई है।

नए मरीजों के मिलने की मौजूदा रफ्तार अगर बनी रही तो 10 दिसंबर तक देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा एक करोड़ के पार हो सकता है। भारत दुनिया में सबसे ज्यादा संक्रमितों के मामले में दूसरे नंबर पर है।

यही नहीं सबसे ज्यादा मौत के मामले में तीसरे नंबर पर है। साथ ही भारत ऐसा सातवां देश है जहां सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं। सबसे ज्यादा एक्टिव केस अमेरिका, फ्रांस, इटली, बेल्जियम, ब्राजील और रूस में है।

महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में कोरोना वायरस के एक्टिव केस, मृत्यु दर और रिकवरी रेट का प्रतिशत सबसे ज्यादा है। राहत की बात है कि मृत्यु दर और एक्टिव केस रेट में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है।

इसके साथ ही भारत में रिकवरी रेट भी लगातार बढ़ रहा है। फिलहाल देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.46 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट 93.68 फीसदी है। एक्टिव केस 5 फीसदी से भी कम है।

सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र में हैं। एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का सातवां स्थान है। कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का दूसरा सबसे प्रभावित देश है। रिकवरी दुनिया में सबसे ज्यादा भारत में हुई है। मौत के मामले में अमेरिका और ब्राजील के बाद भारत का नंबर है।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 4,906 नये मामले सामने आये जिसके बाद यहां संक्रमण दर 7.64 प्रतिशत है। राजधानी में संक्रमण के कारण 68 लोगों की मौत हो गई, जिससे दिल्ली में मरने वाले लोगों की कुल संख्या 9,066 हो गई।

अधिकारियों ने बताया कि यह लगातार दूसरा दिन है, जब संक्र​मण के मामले पांच हजार से कम और संक्रमण दर आठ फीसदी से कम है। दिल्ली में अब तक संक्रमण के 5,66,648 केस हो गए हैं। इनमें से 5,22,491 मरीज संक्रमण मुक्त हो चुके हैं।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के अनुसार, देश में 29 नवंबर तक कोरोना वायरस के लिए कुल 14 करोड़ सैंपल टेस्ट किए गए, जिनमें से 8.76 लाख सैंपल कल टेस्ट किए गए। पॉजिटिविटी रेट सात फीसदी है।

Load More In Breaking News
Comments are closed.