Home देश हाथरस गैंगरेप: सफदरजंग अस्पताल के बाहर हंगामा, पीड़िता के पिता और भाई अस्पताल में धरने पर बैठे

हाथरस गैंगरेप: सफदरजंग अस्पताल के बाहर हंगामा, पीड़िता के पिता और भाई अस्पताल में धरने पर बैठे

40 second read
0
13

हाथरस गैंगरेप पीड़िता के पिता और भाई सफदरजंग अस्पताल में धरने पर बैठे गए हैं। उन्होंने अस्पताल पर आरोप लगाया है कि हमारी अनुमति के बिना शव को अस्पताल से ले जाया गया। हमें कोई पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट नहीं मिली। हमने किसी कागजात पर हस्ताक्षर नहीं किए। परिवार का कहना है कि हमारी अनुमति के बिना अस्पताल शव को कैसे ले जा सकता है।

इस घटना के आप पार्टी के कार्यकर्ताओं ने विरोध किया जिसके बाद विधायकों के साथ पुलिस ने मार-पीट की। जिको लेकर आप पार्टी के नेता संजय सिंह ने अपने ट्विटर अकाउंट पर कहा कि हाथरस कांड में पुलिसवाले जब परिवार की मर्ज़ी के बिना गुड़िया का शव जबरन ले जाने लगे तो AAP विधायक अजय दत्त बाल्मीकी ने विरोध किया पुलिस गुण्डागर्दी पर उतर आई विधायक के साथ मार-पीट की तानाशाही मुर्दाबाद।

उन्होंने आगे कहा कि आप उत्तर प्रदेश महिला प्रदेश अध्यक्ष छोटी बहन नीलम यादव आप व प्रदेश सचिव शिमला श्री की अगुवाई में प्रयागराज में #Hathras कांड के खिलाफ हुआ ज़ोरदार प्रदर्शन। महिला कार्यकर्ताओं ने “बलात्कारियों को फांसी दो” के नारे लगाए।

उन्होने अपनी बात जारी रखते हुए आगे कहा की वाह रे योगी जी बलात्कारियों को तो आपकी पुलिस पकड़ नही पाती प्रदर्शनकारियों पर ज़ोर दिखाती है नीलम यादव आप शिमला श्री, एरम ज़िला अध्यक्ष डॉ. अल्ताफ़ सहित आकाश सर्वेश संजय प्रचंड अंजनी राम सुमेर कुशवाहा व तमाम कार्यकर्ता प्रयागराज में गिरफ़्तार।

संजय सिंह ने मोदी जी का एक पुराण वीडियो शेयर करते हुए मोदी और योगी सरकार पर आरोप हुए कहा कि “तब के मोदी जी ने आज के योगी जी के बारे में क्या कहा था सुनिए”

इस बीच के भाई ने कहा कि पिता ने एंबुलेंस ड्राइवर से बात की है। एंबुलेंस यमुना एक्सप्रेस वे को पार कर चुकी है। पिता ने ड्राइवर से वापस आने और पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट दिखाने को कहा है। अगर ये सब नहीं होता है तो हाथरस में शव को कोई भी स्वीकार नहीं करेगा।

Load More In देश
Comments are closed.