Home gujarat कोरोना संक्रमण के चलते बिगड़े गुजरात के हालात, अहमदाबाद सिविल अस्पताल के बाहर लगी एंबुलेंस की कतार

कोरोना संक्रमण के चलते बिगड़े गुजरात के हालात, अहमदाबाद सिविल अस्पताल के बाहर लगी एंबुलेंस की कतार

35 second read
0
1

नई दिल्ली : गुजरात में लगातार बढ़ते कोरोना केसों की संख्या से स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति गंभीर होती हुई दिख रही है। जिसे लेकर अब अस्पतालों में इसका बोझ लगातार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में अब गंभीर मरीजों के लिए भी अस्पताल के बाहर वेटिंग का टाइम बढ़ गया है। कुछ ऐसा ही हाल राज्य की राजधानी अहमदाबाद का भी है, जहां अस्पताल के बाहर एंबुलेंस की लंबी कतारें देखी जा सकती है।

आपको बता दें कि इमरजेंसी सेवाओं में मरीजों के आने की संख्या पिछले 10 दिनों से काफी बढ़ गई है। इनमें से ज्यादातर कोविड-19 के मरीज हैं, जिस कारण अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में 60 और एंबुलेंस बढ़ दी गई है। राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि कोरोना से लड़ाई में राज्य सरकार से कोई चूक नहीं हुई और हम पिछले एक साल से लगातार कोरोना के खिलाफ मुकाबला कर रहे हैं।

एक न्यूज संस्थान से बात करते हुए मंगलवार को सीएम विजय रूपाणी ने कहा कि गुजरात में सबसे ज्यादा केस अहमदाबाद सूरत राजकोट समेत चार महानगरों से 70 फीसदी सामने आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि सोमवार को छह हजार कोरोना के केस गुजरात से आए हैं। लेकिन, संक्रमण के चैन को तोड़ने के लिए हमने मेडिकल फैसिलिटी को बढ़ाया है। आने वाले दिनों में गुजरात मे कोरोना कम हो जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य में रेमडेसिविर इंजेक्शन की काफी मांग है उसके बावजूद उसकी कमी नहीं होने दी गई है।

 

बता दें कि इससे पहले भी, मंगलवार को गुजरात में कोरोना वायरस संक्रमण के 6,690 नए मामले सामने आए जो कि प्रतिदिन सामने आने वाले मामलों की सर्वाधिक संख्या है। इसके साथ ही संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 3,60,206 हो गए। राज्य के स्वास्थ्य विभाग की ओर से बताया गया है कि कोविड-19 से 67 और मरीजों की मौत हो गई जिससे राज्यों में मृतकों की संख्या 4,922 पर पहुंच गई। वहीं राजधानी अहमदाबाद में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 2,251 नए मामले सामने आए।

आपको बता दें कि गुजरात में अब तक 84.04 लाख लोगों को कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक और 11.61 लोगों को दूसरी खुराक दी जा चुकी है।

Load More In gujarat
Comments are closed.