1. हिन्दी समाचार
  2. mumbai
  3. कोरोना से अनाथ बच्चों के नाम 5 लाख फिक्स डिपॉजिट करेगी सरकार, एक अभिभावक खोने वाले को मिलेगा 2500 महीना

कोरोना से अनाथ बच्चों के नाम 5 लाख फिक्स डिपॉजिट करेगी सरकार, एक अभिभावक खोने वाले को मिलेगा 2500 महीना

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

मुंबई: कोरोना महामारी के दूसरे लहर का कहर लगातार जारी है। कोरोना से संक्रमित मरीज ऑक्सीजन और दवाईयों की कमीं से लगातार दम तोड़ रहें हैं। महामारी के दूसरे लहर ने कई हंसते-खेलते परिवारों को तबाह कर दिया है। महामारी से जान गंवाने वाले लोगों के परिवारों के लिए महाराष्ट्र की उद्धव सरकर ने बड़ा निर्णय लिया है। सरकार कोरोना महामारी में अनाथ हुए बच्चों कों पांच लाख रुपये की सहायता राशि देगी।

आपको बता दें कि राज्य की महिला एवं बाल विकास मंत्री यशोमती ठाकुर ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को विभाग के प्रस्ताव के बारे में जानकारी दी है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इस प्रस्ताव को कैबिनेट में पास करने पर सहमति दे दी है।

महिला एवं बाल विकास मंत्री यशोमती ठाकुर ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मिलकर प्रस्ताव दिया कि कोरोना महामारी में अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों के खाते में पांच लाख रुपये फिक्स राज्य सरकार की ओर से कराया जाए। इस अमाउंट से मिलने वाले ब्याज से बच्चों की जरूरतें पूरी हो सकेगी। इसके साथ ही मंत्री ने बताया कि कोरोना से मां या पिता को खोने वाले बच्चों को हर महीने 2500 रुपये दिए जाएंगे। यह बाल संगोपन योजना के तहत लाभ दिया जा सकेगा।

यशोमती ठाकुर ने आगे बताया कि दोनों योजनाओं के संबंध में मुख्यमंत्री ठाकरे को जानकारी दी गई है। उन्होंने सहमति जताई है। अब यह प्रस्ताव कैबिनेट के सामने लाया जाएगा और आगे निर्णय लिया जाएगा।

महाराष्ट्र में शुक्रवार को कोविड-19 के 20,740 नए मामले सामने आए, जिससे राज्य में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 56 लाख 92 हजार 920 हो गए। वहीं, 424 मरीजों की मौत होने से राज्य में इस महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 93,198 हो गई। पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 30,671 मरीजों को ठीक होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई, जिससे राज्य में इस जानलेवा वायरस को मात देने वालों की संख्या बढ़कर 53 लाख सात हजार 874 हो गई। राज्य में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर दो लाख 89 हजार 88 हो गई है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads