Home उत्तर प्रदेश गंगा घटी तो वरुणा ने बढ़ाई मुश्किलें

गंगा घटी तो वरुणा ने बढ़ाई मुश्किलें

1 second read
0
31

वाराणसी।  दो तीन दिन लगातार बढ़ने के बाद जब वाराणसी में गंगा के जलस्तर और उफान में कमी आयी तो  वही दूसरी तरफ गंगा के सहायक नदी वरुणा में उफान आना शुरू हो गया, ऐसे में जो घर वरुणा की तलहटी के करीब हैं वहां के लोगों की जिंदगी बेपटरी हो गई है। कई घरों में घुटने भर से ऊपर पानी भरने से रहना तो दूभर हुआ ही है साथ ही पलायन के भी हालात बन रहे हैं।  वरुणा नदी के किनारे बसे नक्खी घाट शैलपुत्री मंदिर वाले क्षेत्र के करीब दर्जनभर मुहल्लों में बाढ़ का पानी अब भी लगा हुआ है। वहीँ मिल्लत नगर, अंसार नगर, मीरा घाट,  बगवा नाला, सिधवा घाट, ऊंतवा घाट, हिदायत नगर और दिनदयालपुर में लोगों के घरों के अंदर बाढ़ का पानी भर चुका है। उधर, शैलपुत्री इलाके में भी वरुणा नदी के किनारे रहने वाले लोगों ने राहत की सांस ली है।

केंद्रीय जल आयोग के अनुसार गुरुवार की शाम छह बजे तक गंगा का पानी 68.92 मीटर पर पहुंच गया है। घटने की गति तीन सेमी प्रति घंटा हो गई है। हालांकि पानी के कम होने से लोगों की मुश्किलें बढ़ रही हैं। जिन बस्तियों में पानी घुस गया था वहां अब दुर्गंध और गंदगी का अंबार है। गंगा का पानी कम होने से दशाश्वमेध घाट की जहां सीढ़ियां डूब गई थीं वह अब दिखने लगी हैं। इससे लोगों ने राहत की सांस ली है, लेकिन अभी भी लोगों को बाढ़ की चिंता सता रही है। डूबे क्षेत्र के निवासियों का कहना है कि कभी भी पानी बढ़ सकता है। इसलिए हम लोग सजग हैं। वहीं अस्सी नाले से पानी घुसने की वजह से आंशिक साकेत नगर, रोहित नगर, घोसियारी टोला दुमरावबाग कालोनी तक पानी पहुंचने की स्थिति में पहुंच गया था। जिस से की लोगो की जिंदगी अस्त व्यस्त हो चुकी है।

Share Now
Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.