1. हिन्दी समाचार
  2. क्राइम
  3. पाकिस्तान के पेशावर में सिख डॉक्टर की बर्बरता के साथ हत्या, मारी चार गोलियां; मौके पर मौत

पाकिस्तान के पेशावर में सिख डॉक्टर की बर्बरता के साथ हत्या, मारी चार गोलियां; मौके पर मौत

वैश्विक मंचों पर लगातार अपनी बखान करने वाला पाकिस्तना एक बार फिर अपने कारणों को लेकर सुर्खियों में है, जिसे लेकर उसकी लगातार आलोचना हो रही है। आपको बता दें कि गुरूवार को पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदायों के खिलाफ जारी हिंसा का एक और दर्दनाक उदाहरण पेशावर में देखा गया। यहां सिख समुदाय के एक सदस्य की सिर पर गोली मारकर हत्या कर दी गई।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : वैश्विक मंचों पर लगातार अपनी बखान करने वाला पाकिस्तना एक बार फिर अपने कारणों को लेकर सुर्खियों में है, जिसे लेकर उसकी लगातार आलोचना हो रही है। आपको बता दें कि गुरूवार को पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदायों के खिलाफ जारी हिंसा का एक और दर्दनाक उदाहरण पेशावर में देखा गया। यहां सिख समुदाय के एक सदस्य की सिर पर गोली मारकर हत्या कर दी गई।

 

रिपोर्ट्स के मुताबिक पेशावर में यूनानी हकीम सरदार सतनाम सिंह (खालसा) को अज्ञात हमलावरों ने गोली मार दी। पुलिस के मुताबिक उन्हें चार गोलियां मारी गईं जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई। वहीं हमलावर भी मौके से फरार होने में सफल रहे। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि सिंह हसनदल के रहने वाले थे और शहर में धर्मांदर दवाखाना चलाते थे। पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची और तलाश करने की कोशिश भी की लेकिन कुछ हाथ नहीं लगा।

जांच कर रही है पुलिस

बता दें कि इस घटना की पुलिस लगातार जांच कर रही है। सिंह पर आतंकी हमले की संभावना की जांच भी की जा रही है। पाकिस्तान में हिंदुओं, ईसाइयों, सिख और पारसी समुदाय को भी हिंसा का सामना करना पड़ता रहा है। इस मुद्दे पर हाल ही में आयोजित संयुक्त राष्ट्र महासभा के 76वें सत्र के दौरान भारत की ओर से फर्स्ट सेक्रटरी स्नेहा दुबे ने भी जवाब दिया था।

डर के माहौल में अल्पसंख्यक

इमरान के भारत पर आरोपों के जवाब में स्नेहा ने कहा था कि आज पाकिस्तान के अल्पसंख्यक सिख, हिंदू और क्रिश्चियन लगातार डर के माहौल में जी रहे हैं और राज्य-प्रायोजित आतंकवाद के जरिए अपने अधिकारों को कुचला जा रहा है। असहमति की आवाज को रोज दबाया जा रहा है। लोगों को गायब किया जा रहा है, एक्स्ट्रा ज्यूडिशियल किलिंग सामान्य है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...