Home जरूर पढ़े जानिये देश के पहले CDS जनरल विपिन रावत के बारे में

जानिये देश के पहले CDS जनरल विपिन रावत के बारे में

1 second read
0
33
first-cds-of-india-army-chief-general-bipin-rawat-chief-of-defence-staff

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने इसी साल लाल किले से देश के चीफ ऑफ़ डिफेंस स्टाफ पद का एलान किया था, अपने सम्बोधन में उन्होंने बोला था की 1999 करगिल युद्ध के बाद से ही इस पद की जरूरत पड़ी, सरकारों ने चर्चाएं भी की लेकिन समाधान नहीं निकल पाया लेकिन केंद्र की मोदी सरकार ने सभी अटकलों को विराम देते हुए इस पद की ज़िम्मेदारी थल सेना अध्यक्ष विपिन रावत को देने का मन बना लिया है।

Image result for बिपिन रावत

रावत 31 दिसंबर को सेनाध्यक्ष पद से रिटायर हो रहे हैं। रावत की जगह मनोज मुकुंद नरवणे नए आर्मी चीफ होंगे, मीडिया से बात करते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया था की चीफ ऑफ़ डिफेन्स स्टाफ का पद 4 स्टार जनरल के समकक्ष होगा और यह तीनो सेना प्रमुखों के ऊपर होगा और यह प्रधानमन्त्री के सलाहकार के रूप में भी काम करेगा।

कौन है जनरल विपिन रावत –

जनरल विपिन रावत वर्तमान में देश के सेना अध्यक्ष है और कल वो रिटायर हो रहे है, उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल में जन्मे रावत 16 दिसंबर 1978 में गोरखा राइफल्स की फिफ्थ बटालियन में शामिल हुए। यहीं उनके पिता की यूनिट भी थी देश के 27वें थल सेनाध्यक्ष जनरल विपिन रावत सितंबर 2016 में भारतीय सेना के वाइस चीफ बने थे, रावत ने जनरल दलबीर सिंह के रिटायर होने के बाद भारतीय सेना की कमान 31 दिसंबर 2016 को संभाली थी।

Image result for बिपिन रावत

रावत का परिवार कई पीढ़ियों से भारतीय सेना में सेवाएं दे रहा है। उनके पिता लेफ्टिनेंट जनरल लक्ष्मण सिंह रावत थे जो कई सालों तक भारतीय सेना का हिस्सा रहे। जनरल बिपिन रावत इंडियन मिलिट्री एकेडमी और डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज में पढ़ चुके हैं। इन्होंने मद्रास यूनिवर्सिटी से डिफेंस सर्विसेज में एमफिल की है।

जनरल बिपिन रावत गोरखा ब्रिगेड से निकलने वाले पांचवे अफसर हैं जो भारतीय सेना प्रमुख बनें। 1987 में चीन से छोटे युद्ध के समय जनरल बिपिन रावत की बटालियन चीनी सेना के सामने खड़ी थी।

Image result for बिपिन रावत

रावत को 11 गोरखा राइफल्स की पांचवीं बटैलियन में कमिशन मिला था। इसके बाद वह 1986 में चीन से लगे लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर इन्फेन्ट्री बटैलियन संभाल चुके हैं। रावत 5 सेक्टर राष्ट्रीय राइफल्स और कश्मीर घाटी में 19 इन्फेन्ट्री डिविजन की अगुआई भी कर चुके हैं। ब्रिगेडियर के तौर पर उन्होंने कॉन्गो में यूएन पीसकीपिंग मिशन के मल्टीनैशनल ब्रिग्रेड की अगुआई की थी।

Share Now
Load More In जरूर पढ़े
Comments are closed.