1. हिन्दी समाचार
  2. क्राइम
  3. नशे में धुत होकर राष्ट्रपति भवन में घुसने की कोशिश कर रहा था कपल, पार कर लिए थे तीन बेरिकेड्स; तभी…

नशे में धुत होकर राष्ट्रपति भवन में घुसने की कोशिश कर रहा था कपल, पार कर लिए थे तीन बेरिकेड्स; तभी…

Drunk couple was trying to enter Rashtrapati Bhavan; राष्ट्रपति भवन में घुसने की कोशिश कर रहे था कपल। नशे में थे धुत्त। सुरक्षाबलों ने किया गिरफ्तार।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : नशे में धुत्त होकर एक कपल राष्ट्रपति भवन में घुसने की कोशिश कर रहा था। उसने तीन बेरिकेड्स को भी पार कर लिए थे। वहीं सुरक्षाबलों की नजर उसपर नहीं गई थी। वो इसके आगे का भी दरवाजा पार करता उससे पहले ही उसके साथ कुछ ऐसा हुआ, जो शायद वो सोच भी नहीं सकता था। हालांकि इस घटना को लेकर सुरक्षाबलों पर भी सवाल उठाये जने लगे है।

घटना सोमवार रात करीब 9 बजे की बताई जा रही है। दिल्ली पुलिस ने बताया कि दंपति राष्ट्रपति भवन के एक प्रवेश द्वार से अंदर घुसने की कोशिश कर रहा था। पुलिस के अनुसार, एक लड़का और लड़की गाड़ी से राष्ट्रपति भवन के गेट नंबर 35 से अंदर घुस गए थे। उन्होंने तीन बेरिकेड्स पार कर लिए थे। लेकिन सुरक्षाबलों ने उन्हें पकड़ लिया।

दोनों को भेजा गया जेल

आपको बता दें कि पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार करके कड़ी पूछताछ की। इसके बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया गया। वहां से जेल भेज दिया गया। पुलिस यह पता करने की कोशिश कर रही है कि वे नशे की हालत में राष्ट्रपति भवन में घुसे थे या उनका इरादा कुछ और था। इस घटना के बाद सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद हो गई है। गाड़ी लड़का चला रहा था, जबकि लड़की उसके बगल वाली सीट पर बैठी थी। ध्यान हो कि राष्ट्रपति भवन में प्रवेश के पहले गहन जांच होती है। यह देश के अति सुरक्षित भवनों में से एक है। आमतौर पर दिल्ली में वैसे ही सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद रहती है। किसान आंदोलन के दौरान हुई हिंसा के बाद से सुरक्षा व्यवस्था और पाबंद है।

हरियाणा और पंजाब की विजिट पर हैं राष्ट्रपति

बता दें कि जिस समय यह घटना हुई, तब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भवन में नहीं थे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) अपनी दो दिवसीय यात्रा पर 16 और 17 नवंबर को पंजाब और हरियाणा में हैं।  राष्ट्रपति कोविंद मंगलवार को पंजाब इंजीनियरिंग कालेज के शताब्दी वर्ष समारोह में शामिल हुए। राष्ट्रपति 17 नवंबर को हरियाणा के भिवानी जिले के सुई गांव पहुंचे। इसे महादेवी परमेश्वरीदास जिंदल धर्मार्थ ट्रस्ट ने ‘आदर्श ग्राम’ के रूप में विकसित किया है। राष्ट्रपति ने यहां सार्वजनिक सुविधाओं का उद्घाटन किया। इससे पहले चंडीगढ़ पहुंचने पर राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद की पंजाब के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित, हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने अगवानी की थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...