Home mumbai दिल्ली में लगने वाला है लॉकडाउन! केजरीवाल सरकार ने बुलाई आपात बैठक…

दिल्ली में लगने वाला है लॉकडाउन! केजरीवाल सरकार ने बुलाई आपात बैठक…

4 second read
1
335

रिपोर्ट- पल्लवी त्रिपाठी

नई दिल्ली : भारत में कोरोना वायरस एक बार फिर तेजी से रफ्तार पकड़ रहा है । लगातार कोविड से संक्रमितों और मौतों की संख्या बढ़ती ही जा रही है । कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को आपात बैठक बुलाई है । माना जा रहा है कि इस बैठक में दिल्ली में ल्रॅाकडाउन लगाने को लेकर चर्चा की जा सकती है ।

दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 2,790 नए मामले सामने आए है । इसके अलावा कोरोना से 9 लोगों की मौत हुई है । राजधानी में तेजी से बिगड़ते हालात को देखते हुए केजरीवाल सरकार ने आज (शुक्रवार) शाम चार बजे आपात बैठक बुलाई है ।

बैठक में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और स्वास्थ्य विभाग समेत दूसरे संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहेंगे । बताया जा रहा है कि बैठक में कोरोना वायरस की बढ़ती रफ्तार को रोकने के लिए एक्शन प्लान, वैक्सीनेशन के मौजूदा हालात, कंटेनमेंट जोन, अस्पतालों में बेड प्रबंधन की तैयारियों की समीक्षा की जाएगी ।

आपको बताते चलें कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली में अगले आदेश तक स्कूलों को बंद कर दिया गया है । हालांकि, 9वीं से 12वीं क्लास के बच्चों को प्री बोर्ड, एनुअल एग्जाम, बोर्ड एग्जामिनेशन, प्रैक्टिकल एग्जाम और प्रोजेक्ट वर्क के लिए स्कूल बुलाया जा सकता है।

आपको बताते चलें कि दिल्ली में 1 अप्रैल से शुरू हुए नए शैक्षणिक सत्र को लेकर शिक्षा विभाग ने एक नोटिस जारी किया है । जिसमें शिक्षा विभाग ने स्‍पष्‍ट किया है कि स्‍कूलों को अभी ऑफलाइन क्लासेज शुरू करने की आजादी नहीं है ।

नोटिस में लिखा गया है कि कक्षा 9 से 12 (सत्र 2020-21) के छात्रों को केवल माता-पिता की सहमति के साथ ही COVID19 SOP का पालन करते हुए मिड टर्म/ प्री-बोर्ड/ वार्षिक/ बोर्ड परीक्षा के लिए स्कूल में बुलाया जा सकता है। साथ ही कहा गया है कि अन्‍य क्‍लासेज़ के बच्‍चों को शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए अगले आदेश तक स्कूल में नहीं बुलाया जा सकता । हालांकि, पढ़ाई ऑनलाइन माध्‍यम से 01 अप्रैल से शुरू की जा सकती है.

बता दें कि कोरोना के बढ़ते आंकड़े डराने वाले है । भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 72 हजार से ज्यादा नए मामले दर्ज किए गए हैं । एक दिन में इतने ज्यादा मामले लगभग 4 महीने के बाद आए हैं । कोरोना से मरने वालों की संख्या पिछले 24 घंटे में 459 पहुंच गई है । जिसके चलते कैबिनेट सेक्रेटरी ने आज सुबह 11 बजे राज्यों के मुख्य सचिवों की बैठक बुलाई है ।

वहीं, बात करें मुंबई की तो देश की आर्थिक राजधानी में पिछले 24 घंटे में 8 हजार 646 नए मामले सामने आए है । कोरोना संक्रमण से 18 लोगों की मौत हो गयी है । मुंबई में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 4 लाख 23 हजार 360 हो गए हैं । मुंबई में पूर्ण लॅाकडाउन लगाने की आशंका लगाई जा रही है ।

Load More In mumbai
Comments are closed.