1. हिन्दी समाचार
  2. क्राइम
  3. घर के बाहर शौच करने गये बहू से हैवानियत, उतरवाये कपड़े और जेवरात, किया बारी-बारी से दुष्कर्म और नग्न अवस्था में…

घर के बाहर शौच करने गये बहू से हैवानियत, उतरवाये कपड़े और जेवरात, किया बारी-बारी से दुष्कर्म और नग्न अवस्था में…

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : समस्तीपुर के विभूतिपुर के एक गांव में मंगलवार सुबह हैवानों ने घर के एक बहू की इज्जत लूट ली। इतना ही नहीं, पहले उन लोगों ने पीड़िता को डरा धमकाकर उसके कपड़े और जेवरात उतरवाये। उसके साथ मारपीट की और फिर बारी-बारी से उसके साथ बलात्कार किया। महिला को मरा हुआ समझकर उन हैवानों ने उसे बिजली के पोल पर लटका दिया। इस दौरान उसके बदन पर एक भी कपड़े नहीं थे।

आपको बता दें कि सुबह सात बजे के बाद लोगों की फंदे पर नग्न अवस्था में लटकी महिला पर नजर पड़ी। उसके बाद लोग उसे इलाज के लिए पहले दलसिंहसराय ले गये जहां से उसे बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया। घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने शक के आधार पर आधा दर्जन लोगों को बंधक बना लिया। बाद में सभी को पुलिस के हवाले कर दिया।

मिली जानकारी के अनुसार, सोमवार रात पीड़िता के घर में शादी समारोह था। घर के सभी लोग उसी में व्यस्त थे। उस शादी में टेंट-बाजा में काम करने वाले मजदूर भी रात भर काम कर रहे थे। बताया जाता है कि अहले सुबह घर की एक बहू शौच के निकली तो टेंट-बाजा में काम करने वाले मजदूर महिला का पीछा करने लगे। महिला जैसे ही चौर में शौच करने पहुंची सभी ने उसे दबोच लिया।

उसके बाद उसके जेवरात व कपड़े उतारवा दिया। इस दौरान आनाकानी करने पर महिला की पिटाई भी की। कपड़े और जेवरात उतरवाने के बाद सभी ने उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। इससे महिला बेहोश हो गयी। तब उसे मरा समझ सभी ने उसे चौर में ही बिजली के पोल में नंगी अवस्था में फंदे पर लटका कर छोड़ दिया।

इस घटना के बाद ग्रामीणों ने शक के आधार पर टेंट में काम करने वाले सात लोगों को एक-एक कर बंधक बना एक रूम में बंद कर दिया। काफी देर तक लोग अपने स्तर से ही घटना की तहकीकात में जुटे रहे। जिससे काफी विलंब से पुलिस को सूचना दी गयी। सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पहुंची। जहां उसे महिला के बिखड़े कपड़े मिले।

इसके बाद पुलिस ने उस पोल का भी जायजा लिया जिसमें उसे लटकाया गया था। इसके बाद ग्रामीणों ने बंधक बनाये लोगों को पुलिस को सौंप दिया। थानाध्यक्ष चन्द्रकांत गौरी ने बताया कि ग्रामीणों ने सात लोगों को सौंपा है। सभी से पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि जब तक  महिला होश में आकर बयान नहीं देगी इस संबंध में तब तक कुछ कहा नहीं जा सकता। रोसड़ा के डीएसपी एस. अख्तर ने कहा कि घटना की सूचना मिली है। इस मामले में सात लोगों को हिरासत में लिया गया गया है। महिला का बयान आते ही तत्काल कार्रवाई की जाएगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads