Home विदेश कनेरिया ने किया PAK का पर्दाफाश, कहा- मुल्क बेचने वाले टीम में, और मैं बेरोजगार

कनेरिया ने किया PAK का पर्दाफाश, कहा- मुल्क बेचने वाले टीम में, और मैं बेरोजगार

1 second read
0
34

एक तरफ जहां पाकिस्तान यह राग अलाप रहा है कि पाकिस्तान में हिंदू सुरक्षित हैं तो वहीं दूसरी तरफ हर दिन हिंदूओं के साथ हो रहे प्रताणना के नए नए मामले सामने आ रहा है। पाकिस्तान में हिंदू समुदाय की क्या हालात है इसका पता दानिश कनेरिया की वीडियो से लगाता है।

पाकिस्तान ने उन क्रिकेटरों का स्वागत किया, जिन्होंने मुल्क तक बेच दिया

कनेरिया ने एक वीडियो विडियो शेयर कर आरोप लगाया है कि पाकिस्तान ने उन क्रिकेटरों का स्वागत किया, जिन्होंने मुल्क तक बेच दिया। पाकिस्तान के पूर्व लेग स्पिनर दानिश कनेरिया ने पाकिस्तान के हुक्मरानों और क्रिकेट बोर्ड को आड़े हाथों लेते हुए यूट्यूब पर एक वीडियो शेयर कर अपनी दास्तां सुनाई हैं।

एक के बाद एक हो रहा पाक का असरी चेहरा उजागर

दरअसल, शोएब अख्तर ने पाकिस्तान का हिंदू विरोधी चेहरा क्या उजागर किया, एक के बाद एक नए खुलासे होने लगे हैं। शाहिद अफरीदी का वीडियो सामने आया तो अब दानिश कनेरिया ने वीडियो के जरिए पाकिस्तान पर कई आरोप लगाया है।

जो झेला वो क्रिकेट के आगे नहीं आने दिया

वीडियो की शुरुआत दानिश कनेरिया ने ‘नमस्कार, सलाम, जय श्री राम से की। साथ ही उन्होंने कहा कि जो आपने मुझे प्यार और सपोर्ट पिछले दिनों दिया है मैं उसको बयां नहीं कर सकता हूं। कनेरिया ने कहा जो लोग कह रहे हैं कि मैं सस्ती सी शोहरत पाने के लिए बोल रहा हूं, लेकिन मैंने शोएब अख्तर को नहीं कहा था कुछ बोलने के लिए, ‘जिस स्तर पर मैंने उन सब चीजों को झेला, कभी किसी भी स्तर पर क्रिकेट खेलते हुए उसे क्रिकेट के आगे नहीं आने दिया। हमेशा अपने खेल पर ही फोकस रखा।

10 साल अपने खून की कीमत पर खेला

इसके आगे उन्होंने कहा कि, ‘लोग कह रहे हैं कि मैंने पाकिस्तान के लिए 10 साल खेला, लेकिन मैंने 10 साल अपने खून की कीमत पर खेला। मैंने क्रिकेट पिच पर अपना खून दिया। मैंने तब भी गेंदबाजी जारी रखी, जब मेरी अंगुलियों से खून निकलता रहता था। हाल ही में पाकिस्तानी पूर्व क्रिकेटर शोएब अख्तर ने नेशनल टेलीविजन पर इसका पहली बार जिक्र किया था।’ दरअसल शोएब अख्तर ने दावा किया था कि कुछ पाकिस्तानी क्रिकेटर कनेरिया के साथ खाना खाने से भी हिचकते थे क्योंकि वह हिंदू है।

जिन्होंने मुल्ल को बेचा, जेल गए वो वापस आकर टीम में खेलने लगे

कनेरिया ने आगे कहा कि, फिक्सिंग को लेकर मेरे बारे में बातें करे हैं लेकिन पहले जान तो लें कि मुझ पर दूसरे साथी क्रिकेटरों को उकसाने के आरोप लगे थे। कम से कम मैंने मुल्क को तो नहीं बेचा। यहां तो ऐसे लोग हैं जिन्होंने मुल्ल को बेचा, जेल गए और फिर आकर टीम में क्रिकेट खेलने लगे। उनका सम्मान किया गया। मैंने तो कोई पैसे नहीं, अपनी गलती भी स्वीकार की।’

Share Now
Load More In विदेश
Comments are closed.