1. हिन्दी समाचार
  2. क्राइम
  3. महाराष्ट्र में लगा राष्ट्रपति शासन तो लगेगी आग, संजय राउत ने दी चेतावनी

महाराष्ट्र में लगा राष्ट्रपति शासन तो लगेगी आग, संजय राउत ने दी चेतावनी

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

मुंबई: देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में उस वक्त हड़कंप मच गया जब, एशिया के सबसे बड़े धनपति और देश के सबसे बड़े उद्योगपति अनिल अंबानी के घर एंटीलिया के सामने बीते 25 फरवरी को एक अज्ञात कार खड़ी मिली। पुलिस ने जब सूचना पाकर कार की ज़ॉच की तो उस कार से एक धमकी भरा पत्र मिला। जिसके बाद मामले को गंभीरता से लेते हुए केंद्रीय जॉच एंजेंसी को जॉच सौंपी गई।

NIA ने जब अपने तरीके से जॉच शुरु की तो इसमें महाराष्ट्र पुलिस अधिकारी सचिन वाजे का नाम सामने आया, जिससे सभी होश उड़ गये। केंद्रीय जॉच एजेंसी NIA ने पुलिस अधिकारी सचिन वाजे को गिरफ्तार कर लिया है। NIA ने सचिन वाजे के खिलाफ 120 (बी), 286, 465, 473, 506(2) के तहत मामला दर्ज किया है।

सचिन वाजे के गिरफ्तार होने के बाद महाराष्ट्र की उद्धव सरकार ने सबसे बड़ा फैंसला लेते हुए मुंबई पुलिस कमिश्नर परमवीर सिंह को उनके पद से हटा कर उनको महाराष्ट्र होमगार्ड विभाग का डीजी बना दिया था। जिसके बाद लगातार सियसत गंभीर होती जा रही है। अपने पद से हटाये जाने के बाद परमवीर सिंह ने चिट्ठी लिखकर महाराष्ट्र की सियासत में उथल-पुथल मचा दी है।

पूर्व मुंबई पुलिस कमिश्नर परमवीर सिंह ने चिट्ठी में महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख पर गंभीर आरोप लगा दिया है। जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी लगातार इस्तीफा की मांग कर रही है। सोमवार को संजय राउत ने इस मामले पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की, इस दौरान उन्होने कहा कि “अगर सरकार सही जांच के लिए तैयार है, तो फिर बार-बार इस्तीफे की बात क्यों हो रही है।”

उन्होने कहा कि केंद्रीय एजेंसियों का गलत इस्तेमाल कर महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने की कोशिश हो रही है, लेकिन जो ऐसा कदम उठा रहे हैं उनके लिए ठीक नहीं होगा। उन्होने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर ऐसा सोचा तो मैं उन्हें चेतावनी देता हूं कि ये आग उन्हें भी जला देगी। संजय राउत ने बताया कि “अगर NCP प्रमुख शरद पवार ने ये तय किया है कि अनिल देशमुख के ऊपर जो आरोप लगाए गए हैं, उसमें तथ्य नहीं है तो उसकी जांच होनी चाहिए। उन्होने आगे कहा कि अगर हम सभी का इस्तीफा लेते रहेंगे, तो सरकार चलाना मुश्किल हो जाएगा।”

राउत ने पूर्व पुलिस कमिश्नर परमवार सिंह के बारे में कहा कि उनके कंधे पर बंदूक रखकर चलाई जा रही है, विरोधी पक्ष लोगों को गुमराह नहीं कर सकता है। आपको बता दें कि राउत ने केंद्र सरकार पर भी जमकर हमला बोला है। उन्होने कहा कि केंद्रीय एजेंसियों को महाराष्ट्र में भेजने की कोशिश हो रही है, हम एनआईए को सहयोग कर रहे हैं। सुशांत केस में जब सीबीआई ने एंट्री ली, तब परमबीर ही कमिश्नर थे। लेकिन सीबीआई कुछ नया नहीं निकाल पाई।

उन्होने आगे जानकारी दी कि तीनों पार्टियों में जो भी तय हुआ है, उसपर अंतिम फैसला कैबिनेट के मंच पर मुख्यमंत्री द्वारा ही लिया जाएगा। उन्होने सरकार पर भी बोलते हुए कका कि महाराष्ट्र विकास अघाड़ी सरकार का कोई बाल भी बांका नहीं कर सकता है, इसके साथ ही उन्होने कहा कि सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी।

 

 

 

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...