Home ताजा खबर जामिया हिंसा पर SC ने लगाई फटकार, कहा- हिंसा बंद करने के बाद होगी सुनवाई

जामिया हिंसा पर SC ने लगाई फटकार, कहा- हिंसा बंद करने के बाद होगी सुनवाई

1 min read
0
29

नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ जामिया और अलीगढ़ यूनिर्सिटी में छात्रों द्वारा हिंसक प्रदर्शन पर सुप्रीम कोर्ट ने सख्त आदेश देते हुए कहा है कि इस मामले की सुनवाई कल करेगी लेकिन उससे पहले हिंसा रुकनी चाहिए।

इंदिरा जयसिंह ने खटखटाया SC का दरवाजा

इस मामले पर सीनियर वकील इंदिरा जयसिंह ने SC का दरवाजा खटखटाया है। जयसिंह ने चीफ जस्टिस एसए बोबडे के सामने दलील रखी कि पूरे देश में मानवाधिकारों का हनन हो रहा है। चीफ जस्टिस ने कहा कि हम शांतिपूर्ण प्रदर्शन के खिलाफ नहीं हैं और अधिकारों के संरक्षण के लिए अपनी जिम्मेदारी समझते हैं।

चीफ जस्टिस ने दिए सख्त आदेश

चीफ जस्टिस की बेंच के सामने याचिकाकर्ता ने पुलिस द्वारा हिंसा का कथित वीडियो होने की भी बात कही। ‘इसके जवाब में चीफ जस्टिस ने याचिकाकर्ता को फटकार लगाते हुए कहा कि यह कोर्ट रूम है, यहां शांति से अपनी बात रखनी होगी। उन्होंने कहा कि, हम इस मामले पर सुनवाई कल मंगलवार को करेंगे। इसके साथ ही सख्त आदेश देते हुए चीफ जस्टिस ने कहा कि सुनवाई से पहले हिंसा रुकनी चाहिए।’

हिंसा रुकने के बाद ‘बुधवार’ को होगी सुनवाई

हिंसा की घटनाओं पर नाराजगी जताते हुए चीफ जस्टिस ने कहा है कि, हिंस हर हाल में रुकनी चाहिए। प्रदर्शनाकी स्टूडेंट्स को लेकर उन्होंने कहा कि, अगर आप हमारे पास समाधान के लिए आए हैं तो आपको शांति से अपनी बात रखनी होगी। अगर प्रदर्शनकारी बने रहना चाहते हैं तो आप वही करें। हम अधिकारों के संरक्षण के लिए प्रतिबद्ध हैं, लेकिन यह जंग के माहौल में नहीं हो सकता। पहले हिंसा समाप्त होना चाहिए उसके बाद ही हम स्वत: संज्ञान लेंगे।

Share Now
Load More In ताजा खबर
Comments are closed.