Home Breaking News बदले की भावना से किया गया न्याय, न्याय नहीं: अरविंद बोबडे

बदले की भावना से किया गया न्याय, न्याय नहीं: अरविंद बोबडे

1 min read
0
19

जोधपुर में भारत के मुख्य न्यायाधीश शरद अरविंद बोबड़े ने मौजूदा न्यायायिक सिस्टम पर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि न्याय को कभी बदले का रूप नहीं लेना चाहिए। अगर न्याय बदले का रूप ले ले तो वो न्यय नहीं है।

उन्होंने यह भी कहा कि, हाल की घटनाओं ने एक पुरानी बहस को नई मजबूती से दोबारा छेड़ दिया है। इस बात पर कोई शक नहीं है कि क्रिमिनल जस्टिस को अपनी स्थिति के बारे में दोबारा विचार करना चाहिए, इस बात पर विचार करना चाहिए कि किसी मामले को निपटना में कितना टाइम लग रहा है।

लेकिन मुझे नहीं लगता कि न्याय कभी भी त्वरित हो सकता है या होना चाहिए। न्याय को कभी बदले का रूप नहीं लेना चाहिए, अगर न्याय बदले का रूप ले ले तो वो न्याय नहीं है।’

Share Now
Load More In Breaking News
Comments are closed.