1. हिन्दी समाचार
  2. Breaking News
  3. इस शेयर ने 18 महीने में एक लाख को बना दिया 12 लाख रुपये, जानिए ऐसा कैसे हुआ

इस शेयर ने 18 महीने में एक लाख को बना दिया 12 लाख रुपये, जानिए ऐसा कैसे हुआ

This stock made one lakh rupees 12 lakhs in 18 months, know how it happened; बोरोसिल रिन्यूएबल्स के शेयरों ने1 महीने में 45 फ़ीसदी का दिया रिटर्न। पिछले 1 साल में बोरोसिल के शेयर 333% रिटर्न दे चुका है।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

नई दिल्ली: जहां भारत ही नहीं दुनिया भर में इन दिनों बिजली का संकट चल रहा है, भारत में सोलर ग्लास बनाने बनाने वाली इकलौती कंपनी बोरोसिल रिन्यूएबल्स ने अपने निवेशकों को मालामाल कर दिया है। पिछले 1 महीने में बोरोसिल रिन्यूएबल्स के शेयरों ने 45 फ़ीसदी का रिटर्न दिया है। गुरुवार के कारोबार में बोरोसिल रिन्यूएबल्स के शेयरों में 5 फ़ीसदी का लोअर सर्किट लगा और इसके शेयर ₹446.80 पर रहे। पिछले 1 साल में बोरोसिल के शेयर 333% रिटर्न दे चुका है। शेयर बाजार के जानकारों के मुताबिक सरकार द्वारा हाल में किए गए सुधार और देश में बिजली के संकट की वजह से इस कंपनी के शेयरों में तेजी आ रही है। इक्विटी निवेशक अब उन कंपनियों के शेयरों में निवेश करना चाहते हैं जो परंपरागत ऊर्जा की जगह वैकल्पिक ऊर्जा साधनों के लिए काम कर रही है।

इक्विटीमास्टर की सीनियर रिसर्च एनालिस्ट ऋचा अग्रवाल ने कहा, “देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने हाल में सोलर एनर्जी कारोबार के लिए कई अंतरराष्ट्रीय कंपनियों का अधिग्रहण किया है। इस वजह से अब ग्रीन एनर्जी थीम में तेजी आ रही है। इन कंपनियों के शेयरों में आगे आने वाले समय में भी काफी तेजी रहने की उम्मीद है।”

अप्रैल 2020 में बोरोसिल रिन्यूएबल्स के शेयर 33.6 रुपये के लेवल से 1400% की तेजी के साथ ₹509.70 पर आ गए हैं। पिछले दो कारोबारी सत्र में हालांकि बोरोसिल के शेयरों में लोअर सर्किट भी लगा है। अपने पीक से अब इसके भाव 10% कम हो गए हैं।

सस्ते आयात की वजह से देश में अक्षय ऊर्जा उपकरण बनाने वाली कंपनियों को नुकसान उठाना पड़ता है और इस वजह से घरेलू कंपनियों को काफी घाटा होता है। निवेशकों को इस तरह के शेयरों में निवेश करते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए।

कब करें निवेश?

इक्विटी 99 के सह संस्थापक राहुल शर्मा ने कहा कि बोरोसिल ने अपने कारोबार के विस्तार के लिए संस्थागत निवेशकों से ₹200 करोड़ की रकम जुटाई है। कंपनी अपना सोलर ग्लास प्रोडक्शन कैपेसिटी 450 टन रोजाना से बढ़ाकर 955 टन रोजाना करना चाहती है। शर्मा को बोरोसिल के शेयरों में तेजी आने की उम्मीद है, लेकिन वे मौजूदा लेवल पर शेयरों में खरीदारी की सलाह नहीं देते। शर्मा ने कहा कि अगर बोरोसिल के शेयरों में कमजोरी आती है तो इसके शेयर में निवेश किया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...