1. हिन्दी समाचार
  2. Breaking News
  3. छह कंपनियों को मिली आईपीओ की मंजूरी, जुटाए जाएंगे इतने हजार करोड़ रुपये

छह कंपनियों को मिली आईपीओ की मंजूरी, जुटाए जाएंगे इतने हजार करोड़ रुपये

Six companies got approval for IPO; सेबी ने दी छह कंपनियों को आईपीओ की मंजूरी। जुटाए जाएंगे 12 हजार करोड़ रुपये। सेबी के पास इन कंपनियों ने आईपीओ के लिए शुरुआती दस्तावेज मई से अगस्त 2021 के बीच जमा कराए थे

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

नई दिल्‍ली: शेयर बाजार में रिकॉर्ड तेजी के बाद मिले अवसर को भुनाने के लिए कंपनियों के बीच होड़ मच गयी है। इसे देखते हुए कंपनियों ने आरंभिक सार्वजनिक पेशकश(आईपीओ) के जरिये अक्टूबर से दिसंबर के बीच भारी-भरकम पूंजी जुटाने की तैयारी की है। वहीं सेबी ने फिलहाल छह कंपनियों को आईपीओ पेश करने की मंजूरी दे दी है। इनमें दिग्‍गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला के निवेश वाली स्टार हेल्थ एंड अलायड इंश्योरेंस, अडानी ग्रुप की एफएमसीजी कंपनी अडानी विल्मर और ई-कॉमर्स ब्रांड नायका शामिल हैं। इनके अलावा पेन्‍ना सीमेंट इंडस्ट्रीज, लेटेंट व्यू एनालिटिक्स और सिगाची इंडस्ट्रीज को भी सेबी से आईपीओ की मंजूरी मिल गई है।

सेबी के पास पड़े हैं 52 कंपनियों के दस्‍तावेज

बता दें कि, सेबी के पास इन कंपनियों ने आईपीओ के लिए शुरुआती दस्तावेज मई से अगस्त 2021 के बीच जमा कराए थे। सेबी ने 11-14 अक्टूबर 2021 के बीच इन कंपनियों को आईपीओ लाने के लिए हरी झंडी दे दी। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि सेबी के पास अभी 52 कंपनियों के आईपीओ से जुड़े दस्‍तावेज जमा हैं। दस्‍तावेजों के मुताबिक, ब्यूटी एग्रीगेटर नायका चलाने वाली ऑनलाइन मार्केटप्लेस एफएसएन ई-कॉमर्स वेंचर्स लिमिटेड आईपीओ के तहत 525 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी करेगी। वहीं, प्रमोटर और शेयरधारक करीब 4.31 करोड़ इक्विटी शेयरों के लिए ऑफर फॉर सेल (OFS) लाएंगे। सूत्रों ने बताया कि इस आईपीओ से नायका को 3,500 से 4,000 करोड़ रुपये जुटने की उम्मीद है।

अडानी विल्मर आईपीओ के तहत 4,500 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे। इसके अलावा स्टार हेल्थ इंश्योरेंस के आईपीओ के तहत 2,000 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे। वहीं, प्रमोटर और मौजूदा शेयरधारक 6,01,04,677 इक्विटी शेयरों का ऑफर फॉर सेल (OFS) लाएंगे। हैदराबाद की पेन्‍ना सीमेंट के आईपीओ के तहत 1,300 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे और 250 करोड़ रुपये का ओएफएस लाया जाएगा। लेटेंट व्यू एनालिटिक्स आईपीओ के तहत 474 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी होंगे। वहीं, एक प्रमोटर और शेयरधारक 126 करोड़ रुपये का ओएफएस लाएंगे। सिगाची इंडस्ट्रीज आईपीओ के तहत 76.95 लाख इक्विटी शेयरों की बिक्री की जाएगी।

जानें क्या होता है आईपीओ?

जब कोई कंपनी पहली बार अपने शेयर पब्लिक को ऑफर करती है तो उसे आईपीओ कहते हैं। आईपीओ के जरिए कंपनी फंड इकट्ठा करती है और उस फंड को कंपनी की तरक्की में खर्च करती है। बदले में आईपीओ खरीदने वाले लोगों को कंपनी में हिस्सेदारी मिल जाती है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...