1. हिन्दी समाचार
  2. Breaking News
  3. शर्मनाक : 17 साल की नाबालिग लड़की से 17 लोगों ने किया बलात्कार, बदन पर नहीं था एक भी कपड़ा और…

शर्मनाक : 17 साल की नाबालिग लड़की से 17 लोगों ने किया बलात्कार, बदन पर नहीं था एक भी कपड़ा और…

Shameful: 17 year old minor girl was raped by 17 people; 17 साल की नाबालिग लड़की से 17 लोगों ने किया बलात्कार। नशीला पेय पिला कर किया बेहोश। उतार दिये शरीर से सारे कपड़े।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : “मैं खरीददारी कर बाजार से घर जा रही थी, तभी कैब ड्राइवर ने मुझे धोखे से नशीला पेय पिला दिया। जब मैं जगी तो नदी के किनारे थी। मेरे बदन पर एक भी कपड़े नहीं थे। मैं आदमियों से घिरी हुई थी।” ये कहना है एक 17 साल की नाबालिग लड़की का। जिसके साथ एक, दो नहीं बल्कि 17 लोगों ने बलात्कार किया। विरोध करने पर उसके साथ मारपीट की गई।

आपको बता दें कि ये घटना कजाकिस्तान का है। जहां एक 17 वर्षीय लड़की का अपहरण (Girl Kidnap) कर गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया गया। लड़की के साथ 17 लोगों ने चार दिनों तक गैंगरेप (Girl Gang Rape) किया। एक कैब ड्राइवर (Cab Driver) उसे धोखे से अजनबी जगह ले गया था, जहां उसने साथियों के साथ रेप किया।

‘डेली मेल’ की रिपोर्ट के मुताबिक, पीड़ित लड़की हाई स्कूल की छात्रा है। 17 लोगों ने उसके साथ बारी-बारी से रेप किया और उसकी पिटाई की। जब पीड़िता ने विरोध किया तो उसे नदी में डुबाकर जान से मारने की धमकी दी।

पीड़िता ने खुद बताई आपबीती

पीड़िता ने आगे कहा कि उन लोगों ने मेरे साथ नदी के किनारे ही रेप किया और फिर मुझे एक घर में ले गए। वहां उन्होंने फिर से मेरे साथ रेप किया और फिर अपने दोस्तों को फोन करके कहा- ‘यहां आओ, एक लड़की है। एक-एक करके, दूसरे आदमी उस कमरे में आए और मेरे साथ गैंगरेप किया। जब मैंने उनसे लड़ने की कोशिश की तो उन्होंने मुझे पीटा और नदी में डुबाने की धमकी दी।’

लड़की ने बताया कि दुष्कर्म का सिलसिला चार दिनों तक चलता रहा। उसके बाद, उन्होंने मुझे मेरे कपड़े लौटा दिए और घर से बाहर कर दिया। पीड़िता की मां के अनुसार, दोषियों को न्याय के कटघरे में लाने की उम्मीद खोने के बाद उन्होंने स्थानीय मीडिया का सहारा लिया। पीड़ित की मां ने कहा कि ये मामला पांच महीने पहले हुआ था, लेकिन तब से किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है। इसलिए हमें मीडिया के सामने आना पड़ा।

पुलिस ने कही ये बात

तुर्केस्तान क्षेत्र के पुलिस विभाग के एक प्रवक्ता सल्तनत काराकोज़ोवा ने इस मामले पर टिप्पणी करते हुए कहा- ‘जांच की एक श्रृंखला चल रही है। मामले की जांच की जा रही है.’ आरोपियों को शहर ना छोड़ने के आदेश दिए गए हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...