1. हिन्दी समाचार
  2. Breaking News
  3. सोना, चांदी की कीमतों में आई उछाल, एमसीएक्स पर कीमती धातुओं में रिकॉर्ड बढ़ोतरी, यहां देखें नई दरें

सोना, चांदी की कीमतों में आई उछाल, एमसीएक्स पर कीमती धातुओं में रिकॉर्ड बढ़ोतरी, यहां देखें नई दरें

Gold, silver prices rise, record rise in precious metals on MCX; सोने और चांदी की कीमतों में आई तेजी। बुधवार को लगातार तीसरे दिन सोने और चांदी दोनों में तेजी दर्ज की गई।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

नई दिल्ली: भारतीय बाजारों में आज सोने और चांदी की कीमतों में तेजी आई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज(एमसीएक्स) पर बुधवार को लगातार तीसरे दिन सोने और चांदी दोनों में तेजी दर्ज की गई। एमसीएक्स पर दिसंबर डिलिवरी वाला सोना आज 75 रुपये की तेजी के साथ खुला। सुबह 10 बजे यह 93 रुपये की तेजी के साथ 47373 रुपये पर ट्रेड कर रहा था। सुबह के सत्र में इसने 47,348 रुपये का न्यूनतम और 47,425 रुपये का उच्चतम स्तर छू लिया। दूसरी ओर दिसंबर डिलिवरी वाली चांदी 41 रुपये गिरावट के साथ 64,409 रुपये प्रति किलो के भाव पर ट्रेड कर रही थी। मंगलवार को बाजार बंद होने पर सोने और चांदी की कीमत क्रमश: 47,280 रुपये और 64,450 रुपये थी। वहीं, सोमवार को एमसीएक्स पर सोना और चांदी दोनों में तेजी दर्ज की गई। सोना 47,410 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कारोबार कर रहा था। चांदी का भाव 63,618 रुपये प्रति किलो रहा। भारतीय शहरों में सोने और चांदी की कीमतें

सिटी          गोल्ड (प्रति 10 ग्राम, 22 कैरेट)   चांदी (प्रति किलो)

नई दिल्ली      46,450 रुपये                 64,400 रुपये

चेन्नई             44,640 रुपये                 68,600 रुपये

मुंबई              46,500 रुपये                 64,400 रुपये

कोलकाता      46,840 रुपये                 64,400 रुपये

 

अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने-चांदी के भाव

समाचार एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के अनुसार, अंतरराष्ट्रीय मोर्चे पर, बुधवार को सोने की कीमतों में गिरावट आई, क्योंकि अमेरिकी बॉन्ड यील्ड बढ़ने से धातु की अपील प्रभावित हुई। हाजिर सोना 0.1 प्रतिशत गिरकर 1,767.71 डॉलर प्रति औंस और अमेरिकी सोना वायदा नीचे की ओर टिक कर 0.1 प्रतिशत गिरकर 1,768.40 डॉलर पर आ गया।

इस बीच, रिपोर्ट के अनुसार, मंगलवार को धातु में 1.2 प्रतिशत की वृद्धि हुई और अमेरिकी बेंचमार्क 10-वर्षीय ट्रेजरी की पैदावार भी 20 मई के बाद से अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गई।

रॉयटर्स पोल में अधिकांश अर्थशास्त्रियों ने कहा कि फेडरल रिजर्व ब्याज दरों में वृद्धि से पहले 2023 तक इंतजार करेगा, भले ही लगातार मुद्रास्फीति आने वाले वर्ष में अमेरिकी अर्थव्यवस्था के लिए अधिक जोखिम पैदा करे।

यदि निकट भविष्य में मुद्रास्फीति अपनी वर्तमान गति से बढ़ती रहती है तो फेड नीति निर्माताओं को ‘अधिक आक्रामक नीति प्रतिक्रिया’ अपनानी पड़ सकती है। वैश्विक मोर्चे पर हाजिर चांदी 0.1 प्रतिशत गिरकर 23.62 डॉलर प्रति औंस और प्लैटिनम 0.4 प्रतिशत गिरकर 1,035.96 डॉलर प्रति औंस हो गया।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...