1. हिन्दी समाचार
  2. Breaking News
  3. शर्मनाक: छात्रा को अकेले देख टीचर ने की घिनौनी हरकत, बंद किया दरवाजा, सोफे पर पटका और…

शर्मनाक: छात्रा को अकेले देख टीचर ने की घिनौनी हरकत, बंद किया दरवाजा, सोफे पर पटका और…

Embarrassing: The teacher did abusive act after seeing the student alone; छात्रा के साथ टीचर ने की घिनौनी हरकत। अकेला देख की बलात्कार की कोशिश। बंद किया दरवाजा, बुझा दी लाइट...

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली: टीचर ने सबसे पहले कॉफी की मांग की, फिर दरवाजा बंद किया, लाइट बंद की और…। आपको बता दें कि ये शर्मनाक मामला उज्बेकिस्तान का है। यहां की एक छात्रा के साथ उसके ही बॉस ने रेप करने की कोशिश की। आरोप है कि जब लड़की ने इस बात का विरोध किया तो उसे बिल्डिंग की तीसरी मंजिल से धक्का देकर नीचे गिरा दिया। जिसमें छात्रा बुरी तरह घायल हो गई।

आपको बता दें कि आरोपी ताशकंद यूनिवर्सिटी (Tashkent university) का टीचर है, जिसका नाम बोगाबेक युलदाशेव है। टीचर ने 20 साल की छात्रा मुश्तरिबोनू कामिलोवा को 25 फीट नीचे फेंक दिया, घायल हालत में उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी हालत स्थिर बनी हुई है।

पहले दरवाजा बंद किया फिर लाइट

घटना 18 अक्टूबर को हुई। हॉस्पिटल में इलाज के दौरान पीड़िता मुश्तरिबोनू ने कहा कि टीचर ने सबसे पहले उससे कॉफी बनाने की मांग की। उस वक्त उसके ऑफिस में टीचर के साथ अकेली थी। टीचर ने दरवाजा बंद कर दिया फिर लाइट भी बंद कर दी। ये सब देखकर लड़की को कुछ शक हुआ। उसने अपने फोन से मदद के लिए दोस्त को कॉल किया। उससे बचाने की गुहार लगाई।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पीड़िता ने बताया कि उसने ऑफिस से बाहर निकलने की कोशिश की, लेकिन आरोपी ने उसे पकड़ लिया और उसे एक सोफे पर पटक दिया। विरोध में लड़की चिल्लाई फिर खिड़की के पास पहुंच मदद की गुहार लगाने लगी। इसी दौरान आरोपी ने लड़की को खिड़की से नीचे धकेल दिया। इसके बाद आरोपी ने खिड़की बंद कर दी।

मदद के लिए दरवाजे पर खड़ा था दोस्त

एक तरफ लड़की खिड़की ने नीचे गिर चुकी थी। आरोपी ने खिड़की बंद कर दी। वहीं दूसरी तरफ दरवाजे पर मदद के लिए दोस्त पहुंच गया था। वह दरवाजा पीट रहा था। आरोपी ने दरवाजा खोला। उसने आरोपी को पकड़ लिया। नीचे देखा तो लड़की खून से लथपथ पड़ी थी।

आरोपी ने कहा कि उसने उसे धक्का नहीं दिया, बल्कि वह खुद से गिर गई थी। हालांकि हॉस्पिटल ले जाते समय लड़की ने अपने दोस्त को बताया कि आरोपी ने ही उसे धक्का दिया। लड़की ने हॉस्पिटल में भी आरोपी के खिलाफ बयान दिया। पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। आपको बता दें कि इस घटना के सामने आने के बाद कई महिला संगठनों ने इसका भारी विरोध किया। वहीं आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की। बता दें कि इस हादसे में पीड़िता बुरी तरह से घायल हो गई। अभी उसका इलाज जारी है।

नोट: ये सभी प्रतिकात्मक फोटो है, जिसका किसी भी घटना से कोई संबंध नहीं है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...