1. हिन्दी समाचार
  2. Breaking News
  3. अमित शाह ने किया ‘डेस्टिनेशन नॉर्थ ईस्‍ट 2020’ फेस्‍ट का उद्घाटन

अमित शाह ने किया ‘डेस्टिनेशन नॉर्थ ईस्‍ट 2020’ फेस्‍ट का उद्घाटन

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

विश्‍व पर्यटन दिवस के मौके पर गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को ‘डेस्टिनेशन नॉर्थ-ईस्‍ट 2020’ फेस्‍ट का वर्चुअली उद्घाटन किया।इस दौरान उन्‍होंने कहा कि बिना पूर्वोत्‍तर के, भारत और भारतीय संस्‍कृति अधूरी है। उन्‍होंने कहा क‍ि पूर्वोत्‍तर की संस्‍कृति भारतीय संस्‍कृति का आभूषण है।

अमित शाह ने अपनी सरकार के फैसले गिनाते हुए कहा कि ‘पूर्वोत्‍तर में शांति स्‍थापित करना जरूरी था ताकि अर्थव्‍यवस्‍था, पर्यटन और रोजगार पर आगे बढ़ा जा सके। उन्‍होंने कहा कि पूर्वोत्‍तर पहले हिंसा, उग्रवाद और बंद के चलते सुर्खियों में रहता था, अब वहां विकास की बातें होती हैं।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि उन्‍होंने भारत के कई पर्यटन स्‍थल घूमे हैं, लेकिन पूर्वोत्‍तर जैसी बात कही नहीं है। उन्‍होंने कहा, “पूर्वोत्‍तर के बिना, भारत और भारतीय संस्‍कृति अधूरे लगते हैं। भारतीय संस्‍कृति को तबतक पूर्ण नहीं समझा जा सकता जबकि उसमें पूर्वोत्‍तर की संस्‍कृति शामिल न हो जाए क्‍योंकि पूर्वोत्‍तर की संस्‍कृति भारतीय संस्‍कृति का मुकुट है।”

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि पूर्वोत्‍तर के राज्‍यों में अव्‍यवस्‍था को दूर कर शांति बहाल करने की कोशिशें की गई हैं। उन्‍होंने कहा, “अर्थव्‍यवस्‍था, पर्यटन और रोजगार की दिशा में आगे बढ़ने के लिए पूर्वोत्‍तर में शांति सुनिश्चित करना जरूरी था। पिछले साढ़े छह सालों में, जो पूर्वोत्‍तर उग्रवाद, हिंसा, बंद को लेकर सुर्खियों में रहा करता था, वहां पर विकास, इंडस्‍ट्रीज, ऑर्गन‍िक फार्मिंग और स्‍टार्टअप्‍स की बात हो रही है।”

पूर्वोत्‍तर क्षेत्र के विकास मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह ने कहा कि कोविड-19 महामारी के बाद पूर्वोत्‍तर का स्‍वर्ण युग शुरू होगा।

उन्‍होंने कहा कि यह क्षेत्र भारत में पर्यटन और व्‍यापार की पसंदीदा जगह बनेगा। उन्‍होंने कहा कि नॉर्थ-ईस्‍ट न्‍यू इंडिया का नया इंजन होगा और न्‍यू इंडिया को बनाने में नेतृत्‍व करेगा। इस कार्यक्रम में पूर्वोत्‍तर के राज्‍यों के मुख्‍यमंत्री शामिल हुए।

‘Destination North East-2020’ हर साल होने वाला कार्यक्रम है। इसका मकसद देश के बाकी राज्‍यों को पूर्वोत्‍तर की खास संस्‍कृति से न सिर्फ रूबरू कराना है, बल्कि उसे और पास लाना है ताकि राष्‍ट्रीय भावना मजबूत हो। इस साल के लिए ‘उभर रहीं खूबसूरत जगहों’ को थीम बनाया गया है। यह कार्यक्रम मुख्‍य रूप से पर्यटन को प्रमोट करता है। आज संयोग से विश्‍व पर्यटन दिवस भी है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...