1. हिन्दी समाचार
  2. Breaking News
  3. परमवीर के बाद सचिन वाजे ने भी लिखी चिठ्ठी, एंटीलिया के सामने रखा गया बम शिवसेना नेता ने खरीदा था

परमवीर के बाद सचिन वाजे ने भी लिखी चिठ्ठी, एंटीलिया के सामने रखा गया बम शिवसेना नेता ने खरीदा था

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

मुंबई: एंटीलिया और मनसुख हिरेन की मौत के मामले में जॉच कर रही NIA को रोज नये-नये सबूत मिल रहे हैं। इन दोनो मामलों में फंसा मुंबई पुलिस अधिकारी सचिन वाजे नये-नये खुलासे कर रहा है। सचिन वाजे अबतक कई विस्फोटक खुलासे कर चुका है, वाजे पहले ही कबूल चुका है कि मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक से भरी स्कॉर्पियो उसने ही पार्क किया था।

आपको बता दें कि मुकेश अम्बानी के घर के बाहर जो स्कॉर्पियो खड़ी थी, उसमें जिलेटिन की छड़ें बरामद हुई थी। उसके बारे में सचिन वाजे ने NIA के सामने सचिन वाजे ने कबूला है कि जिलेटिन की छड़ें प्रदीप शर्मा लेकर आये थे।

हम आपको बताते हैं कौन है प्रदीप शर्मा…

प्रदीप शर्मा पूर्व एनकाउंटर स्पेशलिस्ट है, उसके नाम 113 एनकाउंटर करने का रिकॉर्ड दर्ज हैं, साल 2019 में महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के दौरान उसने शिवसेना ज्वाइन कर ली थी। इसके साथ ही उसने चुनाव भी लड़ा, लेकिन उसको जीत हासिल नहीं हुई। प्रदीप शर्मा फर्जी एनकाउंटर केस में जेल भी जा चुके है।

सचिन वाजे, प्रदीप शर्मा के साथ मुंबई पुलिस की एनकाउंटर टीम का प्रमुख हिस्सा रहा है। जानकारी मिल रही है कि अब NIA सचिन वाजे और प्रदीप शर्मा को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करेगी। वहीं सचिन वाजे ने चिट्ठी लिखकर महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख पर आरोप लगाया है कि जब वो पुलिस सेवा से निलंबित था तब अनिल देशमुख ने उसे फोन किया था। देशमुख उसे फिर से सेवा में बहाल करने के लिए उससे 2 करोड़ रुपए की मांग की थी।

वाजे ने अपने पत्र में लिखा है कि पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख ने उससे 1650 बार से पैसे वसूलने के लिए कहा था। इसके अलावा शिवसेना के मंत्री अनिल परब पर आरोप लगाते हुए वाजे ने अपने पत्र में लिखा है कि बीएमसी के कॉन्ट्रैक्टर से पैसे वसूलने के लिए अनिल परब ने उससे कहा था, लेकिन उन्होंने मना कर दिया।

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...