1. हिन्दी समाचार
  2. Breaking News
  3. उत्तराखंड में ब्लैक फंगस महामारी घोषित, अब तक इतनों की गई जान

उत्तराखंड में ब्लैक फंगस महामारी घोषित, अब तक इतनों की गई जान

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: नंदनी तोदी
देहरादून: उत्तराखंड में ब्लैक फंगस का खतरा तेजी से बढ़ रहा है। प्रदेश में तेजी से बढ़ रहे ब्लैक फंगस के मामले सरकार के लिए काफी चिंताजनक है। इतना ही नहीं, अब तक एम्स में ब्लैक फंगस के 61 मरीजों को भर्ती किया गया है। आज हल्द्वानी और रुड़की में भी दो और मामले सामने आएं है जिसके बाद से ही प्रदैश में हड़कंप मचा हुआ है।

राज्य में ब्लैक फंगस के बढ़ते मामलों के बाद अब मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने ब्लैक फंगस को महामारी घोषित कर दिया है। और इसको लेकर आदेश भी जारी कर दिए गए है।

बता दें, उत्तराखंड में पहले से ही ब्लैक फंगस के इलाज को लेकर एसओपी जारी कर दिया गया है। राज्य में ब्लैक फंगस को लेकर सरकार ने अब एडवाडजरी भी जारी कर दी है। इसके साथ ही दवा भी सुझा दी गई है। ऋषिकेश स्थित एम्स में ब्लैक फंगस के मरीजों के लिए एक अलग वार्ड भी बनाया गया है।

आपको बता दें, राज्य में अब तक ब्लैक फंगस के 60 से अधिक मरीज मिल चुके हैं। इसके साथ ही राज्य में 6 मरीजों की मौत भी ब्लैक फंगस से हो चुकी है। बता दें, इससे पहले सरकार ने ब्लैक फंगस की दवाई Amphotericin b के उपयोग के लिए SOP जारी किया था।

शासन के अनुसार ये दवाई केवल डेडीकेटेड कोविड-19 हेल्थ केयर सेंटर मेडिकल कॉलेज और केवल राज्य सरकार के संस्थानों में ही मिलेंगी। प्राइवेट में किसी व्यक्ति विशेष के लिए प्रिस्क्रिप्शन के लिए उपलब्ध नहीं होंगी। अगर कोई डॉक्टर इसको प्रिसक्राइब करता है तो उसके लिए उसे अथॉरिटी फॉरमैट साइन करके देना होगा.दवाई की सप्लाई उसी समय दी जा सकेगी जब वर्किंग हावर्स होंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads