Home Breaking News बीएचयू बवाल: 28 सितंबर तक विश्वविद्यालय बंद, डॉक्टरों ने की हड़ताल

बीएचयू बवाल: 28 सितंबर तक विश्वविद्यालय बंद, डॉक्टरों ने की हड़ताल

2 second read
0
58

वाराणसी। बनारस हिंदू विश्वविद्यालय का बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। घटना के दूसरे दिन यानि सोमवार की रात से लेकर मंगलवार दिन भर भी विश्वविद्यालय सुलगता रहा। जहां सोमवार रात सर्जरी वार्ड में जूनियर रेजिडेंट व महिला मरीज के बीच नोक-झोंक से शुरू बवाल देर रात में हिंसक हुआ तो थाने तक मारपीट होती रही। इसके बाद बवाल फिर बीएचयू परिसर में फैल गया। मंगलवार की सुबह विवि प्रशासन की ओर से एलबीएस, रुइया एनेक्सी और धन्वंतरि हॉस्टल खाली कराने के आदेश जारी कर दिए तो वहीं 28 सितंबर पर विवि में अवकाश घोषित कर दिया गया। छात्रों को हास्‍टल खाली करने के लिए 24 घंटे का अल्‍टीमेटम दिया गया है। एलडी गेस्‍ट हाउस चौराहे पर शाम को पुलिस और प्राक्‍टोरियल बोर्ड ने कुलपति आवास की ओर प्रदर्शन करने जा रहे छात्रों को रोक दिया।

जानकारी के मुताबिक दिन भर रुइया छात्रावास के खिलाफ एलडीएस और बिड़ला के छात्रों के बीच जुबानी जंग जारी रही। इस दौरान रुइया हास्‍टल के विद्यार्थियों ने विवि प्रशासन से सुरक्षा की मांग की तो दर्जन भर प्राइवेट सुरक्षा गार्ड मौके पर भेजे गए। हालांकि स्थिति अब भी तनावपूर्ण बनी हुई है। हॉस्टल पर हमला, तोडफ़ोड़ और आगजनी की घटना से परिसर में दहशत का आलम रहा। पथराव और मारपीट में कई छात्र घायल भी हुए हैं। आरोप यह भी है कि चीफ प्रॉक्टर रॉयना सिंह ने खुद को कमरे में बंद कर लिया था। पिटते रेजिडेंट्स ने मदद की गुहार लगानी चाही। लेकिन उनका फोन नहीं उठा। आरोप यह भी है कि दो छात्रों को रात भर हास्‍टल में बंधक बनाया गया जिनको सुबह पुलिस ने छुड़ाया। हालांकि दोपहर तक बवाल की आशंका बनी रही लेकिन प्रशासन से सख्ती दिखाते हुए मामले को काबू में किया।

Share Now
Load More In Breaking News
Comments are closed.