1. हिन्दी समाचार
  2. भाग्यफल
  3. Chanakya Niti: ये काम करने से पहले सोच लें 100 बार, वरना हो सकता है भारी नुकसान

Chanakya Niti: ये काम करने से पहले सोच लें 100 बार, वरना हो सकता है भारी नुकसान

आचार्य चाणक्य की नीतियां भले ही थोड़ी आपको कठोर लगे लेकिन ये नीतियां आपके जीवन को एक नया राह दिखाता है, जो कामयाबी की ओर ले जाता है। आचार्य चाणक्य ने ऐसे कई नीतियां दी है, जो आपको कठिन से कठिन परिस्थिति में निकाल भी सकता है और मार्ग भी दिखा सकता है।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : आचार्य चाणक्य की नीतियां भले ही थोड़ी आपको कठोर लगे लेकिन ये नीतियां आपके जीवन को एक नया राह दिखाता है, जो कामयाबी की ओर ले जाता है। आचार्य चाणक्य ने ऐसे कई नीतियां दी है, जो आपको कठिन से कठिन परिस्थिति में निकाल भी सकता है और मार्ग भी दिखा सकता है। आज हम आपको आचार्य चाणक्य की वो नीतियां बताएंगे, जिससे आप बड़े नुकसान से पच सकते है।

कभी न करें किसी का अपमान

चाणक्‍य नीति में बताई गई बातों में एक बेहद अहम बात यह है कि कभी किसी का भी अपमान नहीं करना चाहिए। अपमान ऐसी चीज है जो व्‍यक्ति को समय के साथ ज्‍यादा मात्रा में ही वापस मिलता है। इसलिए किसी का भी अपमान करने से पहले 100 बार सोच लेना चाहिए। आचार्य चाणक्‍य ने कहा है कि व्‍यक्ति की प्रशंसा कितनी भी बार करें लेकिन अपमान न करें क्‍योंकि व्‍यक्ति प्रशंसा तो भूल जाता है लेकिन अपमान नहीं भूलता।

बिना बोले भी होता है अपमान

आचार्य चाणक्‍य कहते हैं कि अपमान केवल अपशब्‍द कहकर ही नहीं होता है, बल्कि बिना कहे अपने कर्मों से भी किया जाता है। लिहाजा अपनी वाणी के साथ-साथ अपने कर्मों का भी ध्‍यान रखें। इसके अलावा किसी का भी अपमान करने से आपकी इमेज भी खराब होती है। लिहाजा कभी भी किसी का जाने-अनजाने में अपमान न करें।

सोच समझकर बोले

किसी भी व्यक्ति से बात करते समय सहीं शब्दों का चयन करें, जिससे सुनने वाले व्यक्ति भी आपकी बातों को ध्यान से सुन सकें और उसे बुरा भी न लगे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...