1. हिन्दी समाचार
  2. भाग्यफल
  3. Chanakya Niti: हमेशा राज ही रहने दें अपनी जिंदगी की ये 5 बड़ी बातें, वरना जिंदगी में उठानी पड़ेंगी भारी मुसीबतें

Chanakya Niti: हमेशा राज ही रहने दें अपनी जिंदगी की ये 5 बड़ी बातें, वरना जिंदगी में उठानी पड़ेंगी भारी मुसीबतें

Chanakya Niti: Always keep these 5 big things in your life; आचार्य चाणक्य के इन नीतियों का करें पालन। आचार्य चाणक्य के अनुसार किसी को न बताएं ये राज। अपनी जिंदगी की ये 5 बड़ी बातें किसी को न बताएं।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : महान अर्थशास्‍त्री और कूटनीतिज्ञ आचार्य चाणक्‍य (Acharya Chanakya) ने ऐसी कई नीतियां बताई है, जिससे किसी भी मनुष्य का जीवन सफल हो सकें। हालांकि उन्होंने इन नीतियों का उल्लेख कई सदी पहले किया था। लेकिन चाणक्‍य नीति (Chanakya Niti) में लिखी गईं बातें आज के जीवन और परिस्थितियों पर वैसे ही सटीक बैठती हैं जैसे आचार्य चाणक्य के समय में सटीक थीं।

आचार्य चाणक्य ने काम-काज, तरक्‍की-व्‍यापार, समाजिक जीवन के अलावा गृहस्‍थ जीवन, व्‍यावहारिक जीवन आदि के बारे में भी बहुत काम की बातें बताईं हैं। यदि व्‍यक्ति इन बातों को अपनाए तो हमेशा सुखी जीवन जीता है।

किसी को न बताएं ये राज

चाणक्‍य नीति के मुताबिक व्‍यक्ति को अपने परिजनों, घनिष्‍ठ मित्र और अपनी पत्‍नी को अपने सुख-दुख, परेशानियों के बारे में बताना चाहिए क्‍योंकि ये लोग मुश्किल में साथ देते हैं। लेकिन उसे कुछ बातें हर किसी को नहीं बतानी चाहिए और ये राज (Secrets) उसे अपने तक ही सीमित रखने चाहिए। वरना व्‍यक्ति गंभीर मुसीबत में फंस सकता है।

दांपत्‍य जीवन: पति-पत्‍नी के बीच की बातों के बारे में कभी किसी को नहीं बताना चाहिए। इस मामले में घनिष्‍ठ मित्र को न बताएं, वरना मुश्किल में पड़ सकते हैं। इससे आपका अपमान भी होगा और आपके वैवाहिक जीवन में दरार भी आ सकती है।

धन हानि: जिंदगी में कई बार व्‍यक्ति को धन हानि झेलनी पड़ती है, कर्ज लेना पड़ता है। यदि ऐसी मुश्किल में घिर जाएं तो इसके बारे में किसी को नहीं बताना चाहिए, वरना आपका पैसा कम होता देख लोग आपसे दूरी बना लेंगे। व्‍यक्ति के पास यदि पैसा न रहे तो लोगों का उसके प्रति नजरिया बदलते देर नहीं लगती है।

अपमान: वैसे तो कभी भी ऐसी स्थिति पैदा ही न होने दें कि अपमान हो, लेकिन दुर्भाग्‍यवश ऐसा हो भी जाए तो उसके बारे में कभी किसी को न बताएं। इससे आपकी छवि को नुकसान पहुंचता है और लोगों के मन में आपका सम्‍मान कम होता है।

अपनी धन-संपत्ति: जिस तरह पैसे के नुकसान के बारे में किसी को नहीं बताना चाहिए, उसकी तरह अपनी आय और धन-संपत्ति के बारे में भी किसी को नहीं बताना चाहिए। वरना ईर्ष्‍यालू लोग आपका नुकसान करा सकते हैं।

अपने दुख: अपने दुख-परेशानियां भी हर किसी को नहीं बतानी चाहिए। क्‍योंकि ये लोग मदद तो नहीं करेंगे, उल्‍टा आपका मजाक उड़ाएंगे।

(नोट: इस लेख में दी गई सूचनाएं सामान्य जानकारी और मान्यताओं पर आधारित हैं। RNI News इनकी पुष्टि नहीं करता है।)

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...