Home विदेश ऑस्ट्रेलिया की इस महिला नेता ने रेप का बनाया मजाक, जमकर मचा बवाल तो मांगनी पड़ी माफी

ऑस्ट्रेलिया की इस महिला नेता ने रेप का बनाया मजाक, जमकर मचा बवाल तो मांगनी पड़ी माफी

4 second read
0
11

Report by: Geetanjali Lohani

केनबरा: ‘रेप’ ये एक ऐसा शब्द है जिसे सुनकर सभी की रुह कांप उठती है। लोगों का खून खौला देने वाले इस संवेदनशील मुद्दे को लेकर सभी देश बेहद सतर्क रहता है। हर देश में रेप करने वाले आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा देने का प्रावधान भी है। तो वहीं ऑस्ट्रेलिया जैसे इतने विकसित देश का बड़ा नेता जब रेप जैसे बेहद संवेदनशील मुद्दे का मजाक बनायेगा तो हंगामा होना तो लाजमी ही है।

जी हां दरअसल ऑस्ट्रेलिया की प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन की डिप्टी लीडर ने रेप पर जोक बनाया जिसके बाद जमकर हंगामा मच गया। और इस मामले में बढ़ते विवाद को देखते हुए स्कॉट मॉरिसन के डिप्टी लीडर ने माफी मांगते हुए कहा कि वो इस मुद्दे पर गंभीर होकर ही बात करेंगी।

आखिर कौन हैं प्रधानमंत्री के डिप्टी लीडर?

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया में लिबरल पार्टी सत्ता में है और स्कॉट मॉरिसन देश के प्रधानमंत्री हैं और इसी पार्टी की उप प्रमुख यानी डिप्टी प्रेसीडेंट हैं टीना मेक्कवीन (Teena McQueen)। ऑस्ट्रेलिया की एक मीडिया कंपनी के जरिए पता चला कि टीना रेप जैसे मुद्दे पर जोक बनाती रही हैं। ऐसा ही एक जोक उन्होंने अपने कई साथियों को सुनाया है, जिसमें उन्होंने कहा है कि ‘मेरा यौन शोषण कोई नहीं करेगा, तो मैं उसे मार भी सकती हूं।’

बता दें कि जोक का कंटेंट महिलाओं के खिलाफ यौन हिंसा को उकसाने वाला बेहद ही गंभीर बताया गया है। और डिप्टी लीडर टीना को रेप पर अपने ऊपर ये बात कहना भारी पड़ गया। जिसके बाद टीना ने सफाई दी है और कहा कि वो अपनी बढ़ती उम्र को लेकर मजाक में ये बात कहती थी। लेकिन अगर इस बात से किसी को दुख पहुंचा है, तो वो माफी मांगती हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मेरी जैसी उम्र की महिलाएं रेप से बच जाती हैं। हालांकि आगे उन्होंने भरोसा दिया है कि वो किसी भी बात को बहुत गंभीरता से कहेंगी, खास कर यौन शोषण जैसे बेहद संवेदनशील मुद्दे पर।

देश की संसद में हो चुका है रेप

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया की संसद में साल 2019 में एक महिला के साथ रेप की घटना को अंजाम दिया गया था। उस महिला ने आरोप लगाया था कि दो साल पहले रक्षा मंत्री लिंडे रेनॉल्ड्स के कार्यालय में उसका बलात्कार हुआ था और इस अपराध को अंजाम मॉरिसन की लिबरल पार्टी के कार्यकर्ता ने दिया था। लेकिन उस समय उन्होंने इस घटना की पुलिस में रिपोर्ट नहीं की थी, क्योंकि पार्टी का जोर देते हुए मामले को दबा दिया गया था। लेकिन महिला के इस गंभीर आरोप के बाद उस वक्त ऑस्ट्रेलिया में जबरदस्त प्रदर्शन हुए थे और पीएम स्कॉट मॉरिसन को माफी मांगनी पड़ी थी।

Load More In विदेश
Comments are closed.