Home kolkata Bengal में हिंसा के बाद BJP सांसद ने दी चेतावनी, कहा- TMC सांसदों और CM को भी दिल्ली आना है

Bengal में हिंसा के बाद BJP सांसद ने दी चेतावनी, कहा- TMC सांसदों और CM को भी दिल्ली आना है

11 second read
0
1,524

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

कोलकाता: बंगाल विधानसभा चुनाव में एक बार फिर ममता बनर्जी सरकार बनायेंगी। ममता बनर्जी लगातार तीसरी बार बंगाल की मुख्यमंत्री बनेंगी। रविवार 2 मई को चुनाव के नतीजे आने के बाद शाम से ही बंगाल में हिंसा की खबरें सामने आने लगी। सोमवार को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बंगाल सरकार से हिंसा की रिपोर्ट मांगी थी। वहां हुई हिंसा में अबतक 9 लोगो की जान जाने की खबरें सामने आईं है। वहीं मचे विवाद के बीच बीजेपी सांसद परवेश साहिब सिंह ने आरोप लगाया कि बंगाल में TMC के गुंडे BJP कार्यकर्ताओं की पिटाई की है।

आपको बता दें कि उन्होने आरोप लगाने के साथ ही चेतावनी दी है कि प्रतिद्वंद्वी पार्टी TMC के सांसदों, मुख्यमंत्री और विधायकों को भी दिल्ली आना है। उन्होने CM ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया, कि  “टीएमसी के गुंडों ने चुनाव जीतते ही हमारे कार्यकर्ताओं को जान से मारा, बीजेपी कार्यकर्ताओं की गाड़ियाँ तोड़ीं, घर में आग लगा रहें हैं। याद रखना टीएमसी के सांसद , मुख्यमंत्री , विधायकों को दिल्ली में भी आना होगा, इसको चेतावनी समझ लेना। चुनाव में हार जीत होती है, मर्डर नहीं।“

बंगाल का चुनाव परिणाम जैसे ही घोषित किया गया, इसके एक दिन बाद पुरबा बर्धमान जिले में तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी समर्थकों के बीच हुई झड़प में कथित तौर पर चार लोगों की मौत हो गई।।आधिकारिक सूत्रों ने सोमवार को यह जानकारी दी। तृणमूल कांग्रेस ने दावा किया कि बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा मारे गए तीन लोग उसके समर्थक थे जबकि बीजेपी ने आरोपों को खारिज किया।

इसके बाद रायना पुलिस थाना क्षेत्र में रविवार रात टीएमसी-बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच समसपुर में हुई झड़प में 55 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई। झड़प के बाद पुलिस ने कहा कि इस घटना के संबंध में 23 लोगों को हिरासत में लिया गया है और इलाके में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

हिंसा और झड़प के बादग BJP ने एक पार्टी कार्यालय में कथित आगजनी का वीडियो शेयर किया है जिसमें बांस की बल्लियां और छत जलती हुई नजर आ रही है और परेशान लोगों को चिल्लाते हुए भागते देखा जा सकता है। बीजेपी ने दावा किया है कि उसके 6 कार्यकर्ताओं की मौत इन हमलों में हुई है।

हिंसा के बाद राज्यपाल धनखड़ ने गृह सचिव एके द्विवेदी से मुलाकात के बाद ट्वीट किया, “राज्य में चुनाव के बाद हिंसा की बढ़ती घटनाओं के मद्देनजर मैंने एसीएस गृह को तलब किया था और उन्हें चुनाव बाद हुई राज्य में हुई हिंसा व तोड़फोड़ तथा उठाए गए कदमों पर रिपोर्ट देने को कहा गया है।“

जबकि  एक प्रवक्ता ने बताया कि, “गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल सरकार से राज्य में विपक्षी राजनीतिक कार्यकर्ताओं की निशाना बनाकर की जा रही हिंसा पर एक रिपोर्ट मांगी है।”

 

 

Load More In kolkata
Comments are closed.