Home देश ईद से पहले आतंकियों की कायराना करतूत, अगवा जवान औरंगजेब को भी गोलियों से छलनी किया

ईद से पहले आतंकियों की कायराना करतूत, अगवा जवान औरंगजेब को भी गोलियों से छलनी किया

2 second read
0
237

जम्मू-कश्मीर में ईद से ठीक पहले आतंकवादियों ने कत्लेआम कर दिया है. रमजान के पाक माह में आतंकियों ने अगवा किए गए जवान औरंगजेब की हत्या कर दी. ईद की छुट्टी मनाने घर जा रहे औरंगजेब को आतंकवादियों गुरुवार दोपहर को अगवा किया था. देर रात गोलियों से छलनी जवान का शव पुलवामा जिले के गुस्सू इलाके में मिला. कुछ घंटे पहले ही आतंकवादियों ने इफ्तार में जा रहे राइजिंग कश्मीर के संपादक शुजात बुखारी की हत्या कर दी है.

पुंछ जिले के सेना में रायफलमैन औरंगजेब को गुरुवार को आतंकियों ने अगवा कर लिया था. बताया जा रहा है कि आतंकी समीर टाइगर के खिलाफ सेना ने जो ऑपरेशन चलाया था, उस ऑपरेशन में औरंगजेब मेजर शुक्ला के साथ थे.

औरंगजेब की पोस्टिंग 44RR शादीमार्ग में थी, वह पुंछ के ही रहने वाले थे. जिस दौरान वह घर जा रहे थे, तभी मुगल रोड पर उन्हें आतंकियों ने सुबह करीब 9 बजे किडनैप कर लिया था.

बताया जा रहा है कि औरंगजेब सुबह नौ बजे एक प्राइवेट व्हीकल से शोपियां की तरफ आ रहे थे. तभी कलमपोरा के पास आतंकियों ने वाहन को रुकवाया और उन्हें अगवा कर लिया.

अप्रैल में मारा गया था समीर टाइगर

इसी साल अप्रैल में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षाबलों और पुलिस ने संयुक्त ऑपरेशन में दो आतंकियों को ढेर कर दिया था. मरने वाले आतंकियों ने हिज्बुल मुजाहिदीन का टॉप कमांडर समीर टाइगर भी शामिल था.

कौन था समीर टाइगर?

गौरतलब है कि समीर टाइगर 2016 में हिज्बुल मुजाहिदीन में शामिल हुआ था. समीर पुलवामा का रहने वाला है और हिज्बुल के कई हमलों में शामिल हो चुका है. बुरहान वानी के बाद समीर को कश्मीर के पोस्टर ब्वॉय के रूप में पेश किया गया है. समीर ने आतंकी वसीम के जनाजे में शामिल होकर फायरिंग भी की थी.

कुछ घंटे पहले ही पत्रकार की हत्या की

आतंकवादियों ने गुरुवार शाम को ही राइजिंग इंडिया के संपादक शुजात बुखारी की गोली मारकर हत्या कर दी थी. शुजार लाल चौक के पास प्रेस एन्क्लेव स्थित अपने ऑफिस से इफ्तार पार्टी के लिए निकल रहे थे, तभी मोटरसाइकिल सवार चार आतंकियों ने उन्हें घेरकर गोलियों से छलनी कर दिया.

Load More In देश
Comments are closed.